बिहार के MLA की नहीं कम हो रही मुश्किलें, इनके इस काम ने उड़ा दिए होश

बिहार की मोकामा सीट से दबंग विधायक अनंत सिंह का नाम एक बार फिर चर्चाओं में है. एक फोन कॉल का ऑडियो वायरल होने के बाद उन पर दो लोगों की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगा है. इसी के चलते गुरुवार को एफएसएल की टीम ने उनकी आवाज़ का सैंपल लिया है.

बिहार के MLA

विधायक अनंत सिंह पर इल्जाम है कि उन्होंने भोला सिंह और मुकेश सिंह की हत्या के लिए सुपारी दी थी. जिसका जिक्र एक फोन कॉल में था. और उसका ऑडियो वायरल हो गया था. अब एफएसएल टीम वायरल हुए ऑडियो से अनंत सिंह की आवाज़ का सैंपल मैच करेगी. जिसकी रिपोर्ट अगले हफ्ते आ जाएगी.

हालांकि अनंत सिंह का आरोप है कि राज्य सरकार उनके खिलाफ साजिश रच रही है. उन्होंने इसके लिए जदयू सांसद ललन सिंह और राज्य के मंत्री नीरज पर साजिश का आरोप लगाया है. जिन मुकेश और भोला सिंह की हत्या की साजिश का आरोप विधायक पर है, उनमें से एक भोला सिहं खुद अपराधी बताया जा रहा है. अनंत सिंह खुद को निर्दोष बता रहे हैं.

अयोध्या विवाद: सुप्रीम कोर्ट आज करेगा अयोध्या मामले की रोजाना सुनवाई का फैसला, जानिए क्यों है ऐसा

कौन हैं अनंत सिंह

पहले अनंत सिंह बिहार की सत्तारुढ़ पार्टी JDU का हिस्सा थे, लेकिन इन दिनों वे मोकामा से निर्दलीय विधायक हैं. दबंग विधायक अनंत सिंह और विवादों का पुराना नाता है. कानून की किताब में शायद ही कोई ऐसी धारा बची हो जिसके तहत अनंत सिंह के नाम पर केस दर्ज न हो. अनंत सिंह पर ढाई दर्जन से अधिक संगीन मामले दर्ज हैं. इनमें कत्ल, अपहरण, फिरौती, डकैती और बलात्कार जैसे तमाम संगीन मामले शामिल हैं. अकेले सिर्फ बिहार के बाढ़ थाने में ही कुल 23 संगीन मामले दर्ज हैं. ये बात दीगर है कि अनंत सिंह अपने रसूख से इनमें से कई मामलों में बरी हो चुके हैं.

लोगों के बीच ‘छोटे सरकार’ के नाम से चर्चित अनंत सिंह का नाम कई मामलों में आया. जिसकी वजह से उन्हें पटना की बेऊर जेल में भी जाना पड़ा था. मर्सिडीज से लेकर बग्घी तक की सवारी करने वाले अनंत को हत्या और अपहरण के मामले में गिरफ्तार किया गया था. वो मामला चार युवकों के अपहरण और उनमें से एक की हत्या का था.

क्यों मनाते हैं हरियाली तीज का  त्योहार? जानें पूजा का महत्व, विधि और शुभ मुहूर्त..

4 साल पहले पटना के बाढ़ में चार युवकों ने एक महिला से छेड़छाड़ कर दी. आरोप है कि अनंत के इशारे पर उनके गुर्गों ने चारों युवकों को अगवा कर लिया था. उनमें से एक युवक की दर्दनाक तरीके से हत्या कर दी गई थी. अगले दिन उसका शव जंगल में पड़ा मिला था.

इस मामले में पुलिस ने कई आरोपियों को गिरफ्तार किया था. बाकी तीनों अपहृत युवकों को भी बरामद कर लिया था. पूछताछ के दौरान आरोपियों ने खुलासा किया कि विधायक ने चारों युवकों को सबक सिखाने का आदेश दिया था, लेकिन वे बाकी युवकों को मारते इससे पहले ही पुलिस वहां पहुंच गई थी.

 

=>
LIVE TV