फॉरेस्ट गार्ड भर्ती पर असहज नजर आए मंत्री हरक सिंह रावत, सवालों से बचते दिखे

रिपोर्ट : कुलदीप राणा आज़ाद

 

रुद्रप्रयाग  :  हर मुद्दे पर खुलकर अपनी राय रखने और अपनी ही सरकार को असहज करने वाले वन मंत्री हरक सिंह रावत फाॅरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में खुद असहज नजर आ रहे हैं। फाॅरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा में पेपर लीक मामले में हरक सवालों से बचते फिर रहे हैं।

हरक

इस बीच जब मंत्री हरक सिंह रावत रूद्रप्रयाग पहुंचे तो पत्रकारों के इसी सवाल से हरक सिंह को दो-चार होना पड़ा लेकिन हरक ने यहां से भी कन्नी काटने की पूरी कोशिश की और जो कुछ बोला उससे हरक की पूरे मामले में असहज स्थिति को आसानी से समझा जा सकता है।

दो नदियों का पावन संगम बना जानलेवा, ले चुका है कई श्रद्धालुओं की जान…

दरअसल, रूद्रप्रयाग में पत्रकारों द्वारा जब फाॅरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा मामले में सवाल किया गया तो अबतक हर मामले में खुलकर बोलने वाले मंत्री हरक सिंह पहली बार ये बोलते हुए सवाल से बचते हुए नजर आये कि अभी बोल कर कोई फायदा नहीं, अभी विधानसभा सत्र है इसलिए कुछ भी नही बोल सकते। फिर ये होता है कि आप बाहर क्यों बोल रहे हो और दूसरी बात यह है कि मैं रोज क्या बोलूं?

 

गजब की बात ये है कि अबतक कभी हरक सिंह ने बोलने से पहले विधानसभा सत्र की चिन्ता की क्या? प्रदेश भर में फाॅरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा में लोग आक्रोशित हैं लेकिन हरक सिंह चुप हैं।

 

=>
LIVE TV