Tuesday , July 25 2017

बदल जाएगा इतिहास, ये है न्यूटन और सेब का असली सच

न्यूटन और सेबसेब न्यूटन के सर पर गिरा या सीधा जमीन पर? न्यूटन और सेब की घटना महज़ एक कहानी है या वाकई इस घटना में कोई सच्चाई है। आखिर गुरुत्वाकर्षण का नियम कैसे इज़ाद हुआ। क्या देखा न्यूटन ने ऐसा। खैर इस घटना के पीछे जो भी सच्चाई हो, लेकिन हमें एक महान वैज्ञानिक का मिलना तो तय हो चुका था।

न्यूटन और सेब की असल सच्चाई 

बचपन से लेकर आज तक हम कई इतिहासकारों की जुबान से अलग अलग कहानी सुनते आये हैं कि किस प्रकार न्यूटन एक बगीचे में सेब के पेड़ के नीचे बैठे हुए थे कि पेड़ से एक सेब सीधा उनके सिर पर आ गिरा और इस घटना को देखकर न्यूटन के दिमाग में विचार उत्पन्न हुआ कि पेड़ से सेब सीधा नीचे ही क्यों गिरा? दांयें- बांयें या इधर उधर क्यों नहीं गया?

इस घटना से प्रेरित न्यूटन के दिमाग ने काफी माथापच्ची के बाद दुनिया को एक ऐसे नियम की सौगात दी। जिससे समस्त विज्ञान जगत आज नित नये कीर्तिमान स्थापित कर रहा है।

न्यूटन की यह कहानी इतिहास के पन्नों में दर्ज सबसे प्रचलित कहानियों में से एक है। लेकिन वाकई ऐसा हुआ था या नहीं इस पर इतिहासकारों का एक मत नहीं है न ही इस बात को लेकर न्यूटन का कहीं कोई लेख या जिक्र मिलता है। लेकिन इतिहासकारों का दावा है कि न्यूटन खुद को यह कहानी सुनाना पसंद करते थे और वह भी काफी बढ़ा चढ़ा कर।

इस कहानी को लिखने वाले इतिहासकारों का दावा है कि न्यूटन ने खुद उनके सामने इस कहानी का खुलासा किया था। इस कहानी को लेकर जिसने सबसे ज्यादा विस्तार से लिखा है वह थे, न्यूटन के दोस्त विलियम स्टुकली। स्टुकली ने ही न्यूटन की जीवनी भी लिखी थी।

स्टुकली ने लिखा है कि सन् 1666 में जब लंदन प्लेग की भयंकर महामारी का शिकार हो गया तो न्यूटन ने कैंब्रिज छोड़कर वूल्सथोरपे मानोर को अपना नया घर बनाया। वहीं एक दिन रात का खाना खाने के बाद स्टुकली व न्यूटन बगीचे में सेब के पेड़ के नीचे बैठकर चाय पी रहे थे तभी न्यूटन ने स्टुकली से गुरुत्वाकर्षण के नियम के बारे में जिक्र किया था। कि आखिर कैसे सेब सीधा ही नीचे क्यों गिरता है इधर-उधर क्यों नहीं गिरता।

विलियम के अनुसार न्यूटन ने उनसे कहा था कि सेब का पेड़ भी गुरुत्वाकर्षण के नियम का एक उदाहरण है। विलियम आगे लिखते हैं कि न्यूटन इस चर्चा में डूबे ही थे कि पेड़ से कुछ सेब टूटकर नीचे गिरे। न्यूटन को इस बात का एहसास हो चुका था कि पृथ्वी में मौजूद गुरुत्वीय केंद्र के कारण ही सेब जमीन पर सीधा गिरता है।

लेकिन इस बात पर आज भी रहस्य कायम है कि सेब न्यूटन के सिर पर गिरा या जमीन पर। क्योंकि विलियम स्टुकली ने भी अपने लेख में इस बात का जिक्र नहीं किया है। यह बात तो एक रहस्य ही रह गई लेकिन दुनिया को एक महान वैज्ञानिक मिला जिसने गुरुत्वाकर्षण का नियम इजाद किया और आज भी उस गांव में एक सेब का पेड़ है जिसे न्यूटन के पेड़ के नाम से भी जाना जाता है।

LIVE TV