Saturday , August 19 2017

इस बड़ी वजह से महिला ने छोड़ा दिव्यांग पति, लाखों में हुआ था सौदा

दिव्यांग पतिछतरपुर| मध्‍य प्रदेश पुलिस के सामने एक ऐसा हैरान कर देने वाला मामला सामने आया कि कानून के रखवालें भी कानून भूल गए। दरअसल, यहां शादी के नाम पर एक लाख साठ हजार रुपए में खरीदी गई नवविवाहिता दुल्हन ने दिव्यांग पति को देखकर उसके साथ रहने से इंकार कर दिया। मना करने के बाद दुल्हन ने मौका से भागने का प्रयास किया पर गांव के लोगों ने उसे बिजावर में पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। थाना पुलिस ने कानून विशेषज्ञों से राय लेने के बाद दुल्हन को छतरपुर के परिवार परामर्श केंद्र भेज दिया।

पुलिस के मुताबिक इंदौर की एक तलाक शुदा महिला आरती उम्र 26 वर्ष अपने जीवन साथी की तलाश में सागर आई थी। सागर से कुछ लोग उसे शादी के नाम पर बिजावर लेकर आ गए। थाना सटई के सिंगरावनकलां गांव के छन्नूलाल शुक्ला से 1 लाख 60 हजार रुपए लेकिर उसका विवाह भी तय हो गया। लेकिन, जब महिला ने छन्नूलाल को एक पैर से दिव्यांग देखा तो वह भड़क गई। मौका देखकर वहां से भाग निकली। महिला भाग कर जैसे ही बिजावर पहुंची। छन्नूलाल सहित कुछ लोगों ने उसे पकड़ लिया और थाने ले गए। थाना पुलिस ने महिला से पूछताछ की साथ ही महिला की खरीद फरोख्त करने वाले छन्नूलाल शुक्ला से पूछताछ की, साथ ही इस मामले में महिला सशक्तिकरण अधिकारी से परामर्श भी लिया गया।

परामर्श के बाद महिला को छतरपुर महिला आश्रम भेज दिया गया साथ ही महिला के परिजनों को इंदौर सूचित किया गया। बिजावर थाना प्रभारी शिवशंकर मिश्रा ने बताया कि छन्नूलाल ने पूछताछ के दौरान शादी की एक नोटरी दिखाई पर वह वैध नहीं थी। पुलिस का कहना है कि, यदि छन्नू शुक्ला ने महिला को खरीदा है तो मानव की खरीद-फरोख्त का मामला बनता है। फिलहाल पुलिस के द्वारा मामले की जांच की जा रही है आगे की कार्रवाई महिला के परिजनों के आने पर ही की जाएगी।

=>
=>
LIVE TV