दशहरा के शुभ मौके पर मिला भारत को मिला पहला राफेल, शस्त्र पूजा के बाद भरी उड़ान

वायुसेना के लिए कल यानी कि 8 अक्टूबर का दिन बहुत ही महत्वपूर्व माना गया है. फ्रांस ने भारत को RB 001 राफेल विमान सौंप दिया. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दशहरे के मौके पर एक राफेल विमान को औपचारिक रुप से खरीद लिया. यह पूरी प्रक्रिया मेरीनेक स्थित दसॉ प्लांट में की गई.

वायुसेना

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि फरवरी 2021 तक हम 18 राफेल विमानों की डिलीवरी हासिल करेंगे और अप्रैल-मई 2022 तक हमें सभी 36 विमान मिल जाएंगे. पहले चार विमानों की खेप मई 2020 तक भारत पहुंच जाएगी. उन्होंने कहा कि यह हमारी आत्मरक्षा का एक हिस्सा है न कि किसी के खिलाफ आक्रामकता का संकेत. ये एयरक्राफ्ट एक निवारक है.

विमान पर ऊं लिखकर की पूजा

राजनाथ सिंह ने विमान सौंपे जाने के बाद शस्त्र पूजा की. इस दौरान उन्होंने विमान पर ऊं लिखकर पूजा की. इतना ही नहीं, राफेल की टेस्टिंग उड़ान से पहले उसके पहियों के नीचे दो नींबू भी रखे गए, जो कि धार्मिक रीति-रिवाजों का हिस्सा माना जाता है.

बीजेपी नेता की दिनदहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या, मचा हड़कंप

सोचा नहीं था की ऐसे एयरक्राफ्ट में उड़ूंगाः राजनाथ

राफेल विमान की शस्त्र पूजा के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह राफेल विमान में उड़ान भरी. उनकी उड़ान करीब 30 मिनट की थी. इससे पहले हाल ही में राजनाथ सिंह ने भारत में तेजस विमान उड़ाया था. उड़ान के दौरान उनके साथ दसॉ एविएशन के हेड टेस्ट पायलट फिलिप ड्यूचेटो मौजूद रहे. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि ये उड़ान बेहद रोमांचक और बहुत आरामदायक रही. ये पल बेमिसाल और अनोखा था. मैंने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन मैं किसी सुपर सोनिक स्पीड एयरक्राफ्ट में उड़ूंगा.

 

=>
LIVE TV