जानें क्या है स्पर्म डोनेशन और क्या है इसकी शर्ते

आजकल कई कपल्स शारीरिक दिक्क्तों की वजह से बेऔलाद रह जाते है। हाल ही में एक सर्वे में खुलासा हुआ है कि पूरे विश्व भर में लगभग 2 मिलीयन से ज्यादा लोग बच्चे ना होने की वजह से ग्रसित हैं स्पर्म डोनेशन एक बहुत ही अच्छी प्रक्रिया है यदि कोई व्यक्ति स्वस्थ है और 40 साल से कम उम्र का है तो वह स्पर्म डोनेट कर सकता है लेकिन इससे पहले काफी टेस्ट किए जाते हैं।


पूरी करनी होंगी ये शर्तें:
व्यक्ति बिल्कुल स्वस्थ होना चाहिए व्यक्ति को बिल्कुल कोई भी गुप्त रोग या फिर मानसिक बीमारी नहीं होनी चाहिए तभी वह स्पर्म डोनेट कर सकता है।
जो व्यक्ति स्पर्म डोनेट करना चाहता है उसकी आयु 40 वर्ष से कम लेनी चाहिए 40 वर्ष से अधिक रहने पुरुष का स्पर्म नहीं लिया जाएगा।
वह व्यक्ति समलैंगिक ना हो यानी कि उस व्यक्ति में समलैंगिकता नहीं होनी चाहिए। यदि वह होगा तो उससे पैदा होने वाली संतान भी होगी इसलिए समलैंगिक लोगों का स्पर्म नहीं दिया जाता है।
यदि आप स्पम डोनर बनना चाहते हैं तो आप की लंबाई भी अच्छी रहनी चाहिए यदि आप की लंबाई कम है तो आपका स्थान नहीं लिया जाता है।
स्‍क्रीनिंग होने के बाद अगर डोनर को स्‍पर्म देने के लिए हां बोल दिया जाता है तो उसे सैम्‍पल देना पड़ता है। इससे स्‍पर्म काउंट का पता चल जाता है।

=>
LIVE TV