जानिए अगर आपको भी चुनाव परिणाम की हो रही है चिंता, तो ऐसे कम करें तनाव…

पश्च‍िम बंगाल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (WBBSE) ने 21 मई को 10वीं बोर्ड के रिजल्ट जारी कर दिए हैं. परीक्षा में कुल 10,50,397 छात्र-छात्राएं शामिल हुए जिनमें से 89.97 प्रतिशत छात्र और 82.87 प्रतिशत छात्राएं पास हुई हैं.

चुनाव

बता दें की इस बार बंगाल बोर्ड 10वीं की परीक्षा में ईस्ट मिदनापुर जिले के स्टूडेंट सौगता दास ने 99.14 प्रतिशत अंक हासिल कर इतिहास रच दिया है. उन्होंने कुल 700 में 694 अंक प्राप्त किए हैं.

इस चुनाव अगर ‘हाथ’ में होती ‘झाड़ू’ तो क्या होते नतीजे ?…

जहां सौगता महम्मद देशप्राण विद्यापीठ का छात्र हैं. आपको बता दें, यह बंगाल बोर्ड 10वीं के रिजल्ट में अब तक का सर्वाधिक स्कोर है. इसके साथ ही 86.07 प्रतिशत के ओवरऑल पास प्रतिशत के साथ बंगाल बोर्ड ने भी अब तक का सर्वाधिक अंक हासिल किया है. इससे पहले साल 2018 में 85.49 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए थे.

वहीं  एक बातचीत के दौरान बंगाल बोर्ड के अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली ने बताया कि माध्यमिक परीक्षा में 99 प्रतिशत अंक अब तक का सर्वश्रेष्ठ अंक है. वहीं बोर्ड का ओवरऑल पास पर्सेंटेज भी इस साल सर्वाधिक रहा है.

10वीं बोर्ड में दूसरे स्थान पर संयुक्त रूप से अलीपुरद्वार जिले की श्रेयसी पॉल और कूच बेहर जिले की देबस्म‍िता साहा रहीं. दोनों को 98.71 प्रतिशत अंक मिले हैं. तीसरे स्थान पर उत्तर दिनाजपुर जिले की कैमेलिया रॉय और नादिया जिले के ब्राटिन मंडल रहे. दोनों ने 98.42 परसेंट अंक प्राप्त किया है.इस साल 10वीं के रिजल्ट में कुल 51 छात्र-छात्राएं टॉप-10 मेरिट लिस्ट में शामिल हैं. इनमें 50 विद्यार्थी जिला स्कूल से हैं. वहीं 21 छात्राएं भी इस सूची में शामिल हैं.

दरअसल रिजल्ट जारी किए जाने के बाद बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने सभी छात्र-छात्राओं को बधाई दी. बंगाल बोर्ड के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब किसी स्टूडेंट ने 99 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं.

 

=>
LIVE TV