पर्रिकर ने चीन में उठाया मसूद अजहर पर प्रतिबंध का मुद्दा

Manohar-Parrikar-China-Tour_5715b679db169एजेंसी/ बीजिंग : अपनी चीन यात्रा के तहत चीन पहुंचे रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने वहां जैश-ए-मोहम्मद के चीफ मसूद अजहर का मसला उठाया है। बता दें कि चीन हमेशा मसूद पर प्रतिबंध लगाने के भारत के प्रयासों पर पानी फेरता रहता है। पर्रिकर ने चीन द्वारा पाकिस्तान में चलाई जा रही परियोजनाओं का भी स्पष्टीकरण मांगा।

चीन पहुंची भारतीय मीडिया से पर्रिकर ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में मसूद पर प्रतिबंध लगाए जाने के मामले में जो कुछ भी हुआ, वो सही नहीं था। भारत और चीन को आतंकवाद पर एक समान रुख अपनाना होगा। आगे चीन इस दिशा में क्या कदम उठाता है, यह देखने वाली बात होगी।

आगे पर्रिकर ने बताया कि हमने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में चीन की गतिविधियों के संबंध में भी अपना रुख स्पष्ट किया। बता दें कि पाकिस्तान और चीन मिलकर 46 अरब डॉलर की लागत से दोनों देशों को जोड़ने वाले एक आर्थिक गलियारे का निर्माण कर रहा है।

रक्षा मंत्री ने कहा उन्होने हमारी चिंताओ पर ध्यान दिया है और उम्मीद है कि वो इस पर काम करेंगे। पर्रिकर ने सेंट्रल मिलिट्री कमीशन के उपाध्यक्ष और शीर्ष सैन्य अधिकारी जनरल फान चांगलांग से मुलाकात की। आज पर्रिकर चीन के पीएम ली क्विंग से मुलाकात करेंगे। पर्रिकर चीन के पश्चिमी कमान सैन्य मुख्यालय भी जाएंगे।

भारत के साथ इस मुख्यालय की सभी सीमाएं लगती है। पर्रिकर शीर्ष अधिकारियों के साथ बातचीत के दौरान बार-बार घुसपैठ की घटनाओं, सीमा गश्ती दलों के बीच तनाव घटाने के समझौते के कार्यान्वयन और चीन एवं भारत की रणनीतिक चिंताओं का मसला उठा सकते है। भारतीयों अधिकारियों का कहना है कि इश दौरान द्विपक्षीय संभावनाओं के हर पहलू पर बात की जाएगी।

=>
LIVE TV