चिदंबरम केस में सुप्रीम कोर्ट में 10.30 बजे होगी सुनवाई, घर पर डटी सीबीआई की टीम

कांग्रेस ने नेता पूर्व मंत्री पी. चिदंबरम पर सीबीआई की पैनी नजर है।मंगलवार दोपहर ने ही उनके ऊपर गिरफ्तारी की तरवार लटक रही है। लगातार सीबीआई और ईडी उनके घर जाकर उनसे पूछताछ कर रही है. दिल्ली हाईकोर्ट से INX  मीडिया केस से राहत मिलने के बाद से ही चिदंबरम गायब थे।

चिदंबरम

अभी भी मौजूद हैं दो सदस्य…

सीबीआई टीम के दो सदस्य पी. चिदंबरम के घर पर ही मौजूद हैं. सुबह-सुबह पूरी टीम उनके घर पहुंची थी, लेकिन चिदंबरम घर पर नहीं मिले. रात को भी दो सीबीआई के सदस्य उनके घर पर रुके हुए थे, अब उनकी शिफ्ट चेंज हुई है.

एक बार फिर चिदंबरम के घर पहुंची सीबीआई

सीबीआई की टीम एक बार फिर पी. चिदंबरम के घर पहुंची है. बुधवार सुबह-सुबह सीबीआई की टीम पूर्व वित्त मंत्री के घर पहुंची. सीबीआई और ईडी कल रात से ही उनकी तलाश में हैं. चिदंबरम के मसले पर सुप्रीम कोर्ट में सुबह 10.30 बजे सुनवाई होनी है.

MP: मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पूर्व CM बाबूलाल गौर के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है

किस केस के फेर में फंसे चिदंबरम?

पी. चिदंबरम पर INX मीडिया को फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रोमोशन बोर्ड से गैरकानूनी रूप से स्वीकृति दिलाने के लिए  रिश्वत लेने का आरोप है. इस केस में अभी तक चिदंबरम को कोर्ट से करीब दो दर्जन बार अंतरिम प्रोटेक्शन यानी गिरफ्तारी पर रोक की राहत मिली हुई है. ये मामला 2007 का है, जब चिदंबरम देश के वित्त मंत्री के पद पर थे.
2017 में CBI ने इस मामले में फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रोमोशन बोर्ड से मिली स्वीकृति में गड़बड़ी पर FIR दर्ज की. जबकि ED ने 2018 में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया. इस मामले में आईएनएक्स मीडिया की मालकिन और आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को इस केस में अप्रूवर बनाया गया और इसी साल उनका स्टेटमेंट भी रिकॉर्ड किया गया. CBI के मुताबिक मुखर्जी ने गवाही दी कि उसने कार्ति चिदंबरम को 10 लाख रुपये दिए.

अब सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी

दिल्ली हाईकोर्ट से झटका लगा तो चिदंबरम की तरफ से सुप्रीम कोर्ट का रुख किया गया. लेकिन अदालत ने मंगलवार शाम मामला सुनने से इनकार किया, अब बुधवार सुबह 10.30 बजे उनके मामले की सुनवाई होनी है. पी. चिदंबरम ने मंगलवार को ही पार्टी नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल, अभिषेक मनु सिंघवी और सलमान खुर्शीद से मुलाकात की थी.

ईडी-सीबीआई का शिकंजा

दरअसल, INX मीडिया केस में मंगलवार को दिल्ली हाईकोर्ट ने पी. चिदंबरम को अंतरिम जमानत देने से इनकार कर दिया. कोर्ट से चिदंबरम को झटका लगा, तो ईडी-सीबीआई उनकी गिरफ्तारी के लिए तैयार खड़ी थीं. पहले सीबीआई उनके घर पहुंची और फिर ईडी, लेकिन चिदंबरम घर पर नहीं मिले. और फोन भी स्विच ऑफ कर दिया गया. एजेंसियों की तरफ से उनके घर के बाहर नोटिस भी चिपकाया गया है.

 

=>
LIVE TV