Friday , June 23 2017

बुखार को दूर करने के अचूक घरेलू नुस्खे

 घरेलूनई दिल्ली। मौसम बदलते ही जिस समस्या से हम सब को रूबरू होना पड़ता है वो है बुखार। वैसे बुखार कोई बिमारी नहीं होता यह बस एक संकेत होता है। अगर आपको बुखार आने लगे तो इसका मतलब होता है कि आप किसी न किसी बिमारी का शिकार हो चुके हैं। अगर बुखार का समय पर इलाज ना कराया जाये तो बुखार और भी कई बीमारियों का कारण बन जाता है। अगर आपको शरीर में थकान एवं कमज़ोरी महसूस हो रही है या जीभ का स्वाद चला गया है तो सकर्त हो जाएं। बुखार को दूर करने के लिये घरेलू औषधियां बहुत ही कारगर होती हैं।

बुखार को दूर करने के घरेलू नुस्खे :

  1. यदि किसी को तेज बुखार आ जाये तो सूती मोज़े लें। अब इन मोजो को ठंडे पानी में डालें। इन मोजो का एक्स्ट्रा पानी निचोड़ कर पैरों में पहना दें। जब यह मोज़े पैरों में सुख जाए तो दुबारा इस प्रक्रिया को दोहराए। इससे शरीर का तापमान कम होगा।
  2. एक गिलास पानी में एक बड़ा चम्म्च धनिया के बीच डालकर उबाल लें। इसके बाद इसमें थोड़ा दूध और चीनी मिलाएं। धनिया की चाय तैयार है, इसे पीने से बुखार में बहुत आराम मिलता है।
  3. यदि किसी व्यक्ति को तेज बुखार हो तो उसके उपचार के लिए कच्चे आलू का टुकड़ा लेकर रोगी के तलुओं और हथेली मे रगड़ें, रोगी को खुला रखें उसके सिर पर ठंडी पट्टियाँ रखें। इससे बुखार कम होने लगेगा।
  4. एक भाग चावल और आधा भाग पानी डालकर चावल के आधा पकने तक पकाएं। इसके बाद पानी को निथार कर अलग कर लें और इसमें स्वादानुसार नमक मिलाकर, गर्म गर्म ही पिएं। इससे बुखार में बहुत आराम मिलता है।
  5. निम्बू अनेक बीमारियों को ठीक करने के साथ-साथ बुखार का भी रामबाण इलाज है। इसके प्रयोग के लिए निम्बू को काट कर उसका एक टुकड़ा लें और उससे अपने पैरों के तलों पर मसाज करें। इस प्रयोग से आपको आसानी से बुखार की समस्या से राहत मिलेगी।
  6. जब भी आप नहाने जाए तो नहाने के पानी में आधा कप सिरका मिला कर दस मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। अब इस पानी से नहाए. इससे आपको फायदा होगा।
  7. तुलसी के सेवन से सभी प्रकार के बुखारों में लाभ होता है। 20 तुलसी के पत्ते, 10 कालीमिर्च और एक चम्मच शक्कर का काढ़ा मिलाकर सेवन करने से बुखार में लाभ होता है।
  8. आधा प्याज का टुकड़ा लेकर उसके रस में एक चुटकी कालीमिर्च का चूर्ण मिलाकर सुबह और शाम में पीने से बुखार में आराम मिलता है।
  9. 20 ग्राम शुद्ध शहद, आधा ग्राम सेंधानमक और आधा ग्राम हल्दी को पीसकर गर्म पानी में डालकर रात को पीने से बुखार और जुकाम ठीक हो जाता हैं।
  10. 10 ग्राम सेंधानमक और 40 ग्राम देशी चीनी (बूरा) को मिलाकर बारीक पीस लें। इस चूर्ण को आघा चम्मच रोजाना 3 बार गर्म पानी से लेने से मलेरिया बुखार आना बन्द हो जाता है।

 

LIVE TV