क्या दूसरे देशों से खरीदना पड़ेगा पानी ?

water-crisis_571a068a46ecfएजेंसी/ नई दिल्ली : देश इस समय भयंकर सूखे का सामना कर रहा है. महाराष्ट्र सहित देश के कई राज्य भयंकर सूखे की चपेट में है. हालत यह है कि महाराष्ट्र के लातूर में तो ट्रैन से पानी पहुँचाना पड़ा. इस बीच हाल ही में पानी को लेकर किए गए सर्वे की खौफनाक रिपोर्ट सामने आई है.

पानी की उपलब्धता को लेकर किए गए सर्वे के अनुसार इस समय देश में जिस तेजी से जलस्तर कम हो रहा है, उस हिसाब से तो देश को 2050 तक पीने का पानी भी दूसरे देशो से मंगवाना पड़ेगा. 2001 के डाटा के अनुसार जमीन के भीतर प्रति व्यक्ति 5,120 लीटर पानी बचा है, जबकि 1951 में प्रति व्यक्ति 14,180 लीटर पानी जमीन के भीतर हुआ करता था.

अगर यही हाल रहा तो 2050 तक जमीन के भीतर प्रति व्यक्ति 3120 लीटर पानी ही रहेगा. ऐसे में देश के भीतर भारी जलसंकट खड़ा हो जाएगा. विशेषज्ञों के अनुसार देश को अगर इस भयावह स्थति से बचना है तो लोगो को जल संरक्षण के लिए प्रेरित करना होगा.

=>
LIVE TV