कोरोना कहर:प्रयागराज कोरोना से मुक्त…प्रशासन का दावा-अब एक भी मरीज नहीं पूरे शहर में!

प्रयागराज। एक ओर पूरी दुनिया कोरोना वायरस के चपेट में हैं तो वहीं उत्तर प्रदेश के प्रयागराज से खबर आई हैं कि एक भी व्यक्ति इस महामारी के चपेट में नहीं है। इसके साथ ही सबसे ज्यादा आबादी वाला जिला कोरोना से पूरी तरह मुक्त हो गया है।प्रयागराज के चीफ मेडिकल ऑफिसर जी एस वाजपेयी ने दावा किया है कि प्रयागराज में अब कोरोना का एक भी मरीज नहीं है।

प्रयागराज।

प्रयागराज जिले में अब तक मिले इकलौते कोरोना पॉजिटिव मरीज की तीसरी रिपोर्ट भी नेगेटिव आई है. बता दें कि तबलीगी जमात में शामिल होने के बाद प्रयागराज पहुंचे इंडोनेशिया के इस शख्स को रेलवे स्टेशन के पास स्थित शेख अब्दुल्ला मस्जिद से पुलिस ने खोज निकाला था।

विज्ञान ने दुनिया को दिए कई वरदान, लेकिन साथ में कुछ अभिशाप

इस शख्स को पहले क्वारनटीन सेंटर भेजा गया था और जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पांच अप्रैल को उसे कोविड -19 के इलाज के लिए कोटवा बनी में बनाए गए लेवल वन के अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसकी दो रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद डॉक्टरों ने तीसरी रिपोर्ट के लिए सैंपल गुरुवार को लैब भेजे थे, इसकी रिपोर्ट भी नेगेटिव आई है. इसी के साथ ही फिलहाल अब तक प्रयागराज में कोई भी कोरोना पॉजिटिव मरीज नहीं मिला है।

राजस्व, पुलिस, स्वास्थ्य और नगर निगम ने की मेहनत-प्रयागराज जिले को कोरोना मुक्त करने में जिला प्रशासन को कड़ी मेहनत करनी पड़ी है. इसमें राजस्व, पुलिस, स्वास्थ्य और नगर निगम के साथ ही अन्य विभागों और संगठनों ने पूरी मदद की है. यहां के लोगों ने भी संयमित जीवन शैली अपनाकर और लॉकडाउन का सख्ती से पालन कर कोरोना को शिकस्त दी है.

लॉकडाउन के प्रोटोकॉल का पालन करें लोग-सीएमओ जी एस वाजपेयी के मुताबिक अब प्रयागराज पूरी तरह कोरोना मुक्त हो गया है. प्रयागराज के लोग भी इस प्रशासन की इस कामयाबी से खुश हैं. जिला प्रशासन ने कहा कि लोगों को लॉकडाउन के प्रोटोकॉल का पालन 3 मई तक पूरी सख्ती से करना चाहिए.

=>
LIVE TV