ऑस्ट्रेलिया में गिरफ्तार हुए संत आनंद गिरि पर नरेन्द्र गिरि बोले- “ये आरोप किसी की चाल हो सकती है !”

रिपोर्ट – सईद रज़ा

प्रयागराज : संत आनंद गिरि के गिरफ्तारी पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि महाराज ने बयान दिया है | उन्होंने कहा है कि 2019 कुंभ मेले के दौरान बड़े संतो को कुंभ मेला में जगह नहीं मिली थी ।

नरेंद्र गिरि महाराज ने कहा कि मेले के दौरान कई फर्जी बाबाओं को बाहर किया गया था और उनको जगह भी नही दी गयी थी । उन्होंने संभावना जताई है कि ऐसा हो सकता है कि किसी की चाल हो हालांकि वो किसी पर आरोप नही लगा रहे ।

आनंद गिरि डेढ़ महीने पहले ऑस्ट्रेलिया के सिडनी शहर गए थे । उन्हें वहां एक आध्यात्मिक शिविर में प्रशिक्षण के लिए बुलाया गया था ।

ऑस्ट्रेलियन मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, भारतीय समयानुसार शनिवार देर रात उन्हें सिडनी स्थित ओक्सले पार्क के वेस्टर्न सबअर्ब से गिरफ्तार किया गया ।

आरोप है कि उन्होंने दो अलग-अलग घटनाओं में ऑस्ट्रेलिया निवासी दो महिलाओं से अमर्यादित आचरण किया । जिन दो घटनाओं का जिक्र करते हुए महिलाओं ने उन पर आरोप लगाया है |

उनमें से एक तीन साल व दूसरी दो साल पहले की हैं । आरोपों के अनुसार, पहली घटना 2016 की है, जब योग गुरु नए साल के मौके पर रूटी हिल क्षेत्र स्थित एक घर में आयोजित प्रार्थना में शामिल होने गए थे ।

फर्जी लाल बत्ती गाड़ी पर लगा कर फोटो खिंचवाते रहे लड़के, पुलिस ने नहीं की कार्यवाई !

आरोप है कि यहां वह 29 वर्षीय महिला से मिले और उससे अमर्यादित आचरण किया । दूसरी घटना भी रूटी हिल क्षेत्र की है, जब नवंबर 2018 में यहां स्थित एक घर में योग गुरु को प्रार्थना के लिए आमंत्रित किया गया था ।

आरोप है कि यहां उन्होंने 34 वर्षीय महिला के साथ घर के बरामदे में अमर्यादित आचरण किया । आरोप लगाने वाली दोनों ही महिलाएं योग गुरु की परिचित बताई जा रही हैं ।

पीठ थपथपाकर आशीर्वाद की परंपरा को अमर्यादित आचरण करार देते हुए उन्हें आरोपित करते हुए गिरफ्तार किया गया है । उच्च अदालत में जमानत की अर्जी डाली गई है।

 

=>
LIVE TV