एसपी ट्रैफिक कार्यालय में बेहोश हुआ होमगार्ड,एसपी ट्रैफिक पर लगाया उत्पीड़न का आरोप

रिपोर्ट-पंकज श्रीवास्तव/गोरखपुर

गोरखपुर के एसपी ट्रैफिक कार्यालय पर आज उस समय अफरातफरी मच गई जब एक होमगार्ड कार्यालय पर चक्कर खाकर गिर गया ।

आनन फानन में उसके साथियों ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाया जहां उसका इलाज चल रहा है होमगार्ड ने एसपी ट्रैफिक कार्यालय में बेहोश हुआ होमगार्ड, लगाया बेहिसाब उत्पीड़न का आरोप उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

जिला अस्पताल में भर्ती ये है होमगार्ड विनोद शर्मा .विनोद ने एसपी ट्रैफिक पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है इनका कहना है कि आज जब वो ड्यूटी के लिए आया तो एसपी ट्रैफिक साहब उसपर भड़क गए जिससे वो घबराकर बाहर निकला तो चक्कर खाकर गिर पड़ा।

होमगार्ड का उत्पीडन

विनोद के मुताबिक की 30 जून को वो स्टेशन रोड पर आटो हटवा रहा था इसी दौरान एक आटो वाला उससे यह कहते हुए भीड़ गया कि मैं तुम्हारे एसपी को पैसा देता हूं जब इसकी शिकायत के लिए मैं एसपी साहेब को फोन मिला रहा था.

उसी बीच एसपी साहेब वहां आ गए और उसकी बजाय मुझपर ही बरस पड़े और मुझे गालियां दी ।आज फिर मैं ड्यूटी के लिए साहब से मिलने गया तो उन्होंने फिर मुझे भद्दी भद्दी गालियां देकर सस्पेंड कराने की धमकी दी जिससे आहत होकर मैं बाहर निकला और मेरी तबियत खराब हो गई।

वही इस मामले  में एसपी ट्रैफिक आदित्य प्रकाश वर्मा का कहना है कि आज तो उस होमगार्ड से मेरी कोई मुलाकात ही नहीं हुई और रहा सवाल उसकी ड्यूटी की तो वह लापरवाह किस्म का आदमी है .

सीएम ड्यूटी के दौरान भी उसकी लापरवाही के कारन उसे हटाया जा चूका है . इतना ही नहीं उसके विभाग के डिप्टी होमगार्ड को भी उसकी शिकायत दर्ज कराई गयी है .

सचल दल के असिस्टेंट कमिश्नर खुद खड़े होकर करा रहे वसूली, घूसखोरी पर नहीं लग रही लगाम

उन्होंने यह भी कहा कि मेरे द्वारा कई होमगार्ड पुरस्कृत व सम्मानित भी हो चुके है लेकिन कामचोरों की इस कार्यालय को कोई जरूरत नहीं है

फिलहाल होमगार्ड का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है और उसकी स्थिति सामान्य है वही होमगार्ड संघ ने एसपी ट्रैफिक पर कार्रवाई न होने पर आंदोलन की चेतावनी दे दी है

=>
LIVE TV