इस दिग्गज क्रिकेटर ने लिया सन्यास, वजह हैरान करने वाली

हैदराबाद: इंडियन टीम के बैट्समैन अंबाती रायडू एक ट्वीट कर फिर से सुर्खियों आ गए हैं। उन्होंने रणजी ट्रॉफी के अगले सत्र में खेलने के लिए खुद को अनुपलब्ध बताते हुए हैदराबाद क्रिकेट संघ में कदाचार के गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने तेलंगाना के मंत्री केटी रामा राव से आंध्र प्रदेश क्रिकेट संघ में भ्रष्टाचार रोकने की अपील की है। उन्होंने ये आरोप अपने उस ऐलान के एक दिन बाद लगाए हैं, जिसमें उन्होंने हैदराबाद के लिए पहली श्रेणी क्रिकेट से कुछ महीने का ब्रेक लेने की बात कही है।

रायडू ने भले ही व्यक्तिगत वजह का हवाला देते हुए प्रथम श्रेणी क्रिकेट से ब्रेक लेने की बात कही है, लेकिन उनके टवीट के बाद हालात कुछ और ही इशारा कर रहे हैं। इसमें अंबाती रायडू ने कहा, ‘हेलो सर, मैं आपसे हैदराबाद क्रिकेट संघ में चल रहे भ्रष्टाचार को रोकने की अपील करता हूं। जब तक हैदराबाद क्रिकेट टीम में पैसों और भ्रष्ट लोगों का दखल जारी रहेगा तब तक कैसे एक बेहतरीन टीम बन सकती है।’

 

खास बात तो ये है कि ICC विश्व कप के लिए खुद की जगह विजय शंकर को टीम इंडिया में चुन लिए जाने से निराश होकर चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद पर निशाना साधते हुए थ्रीडी चश्मे के टवीट के बाद रायडू का ये पहला टवीट है।

यूपी पुलिस की नई पहल! जो नन्हे हाथ भीख मांग रहे थे अब वही उठाएंगे ‘किताबे’

अंबाती रायडू को विश्व कप 2019 की टीम में नहीं चुना गया था। जिसके बाद उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। वैसे तो, इसी साल अगस्त में उन्होंने संन्यास को भावनाओं में लिया गया फैसला बताते हुए मैदान पर वापसी की। संन्यास के बाद वापसी करते हुए उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में 7 पारियों में 233 रन बनाए। रायडू हैदराबाद के लिए सर्वाधिक रन बनाने वाले बैट्समैन की लिस्ट में दूसरे नंबर पर रहे।

=>
LIVE TV