Wednesday , September 20 2017

अरब की सबसे पुरानी मस्जिद पर शिवलिंग और नंदी, देखकर आप भी चौंक जाएंगे

अरब की सबसे पुरानी मस्जिदनई दिल्‍ली। अरब की सबसे पुरानी मस्जिद की तस्‍वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस तस्‍वीर को हजारों लोग शेयर कर चुके हैं। दरअसल इस तस्‍वीर की हकीकत कुछ चौंकाने वाली है, जिसकी वजह से इसे वायरल किया जा रहा है। पुनीत शर्मा नाम के एक शख्‍स ने यह दावा किया है कि अरब की इमारत यहां की सबसे पुरानी मस्जिद है। पुनीत ने इसका नाम रासा मस्जिद बताया है।

ये भी पढ़ें- अब शुरू हुए धारा 370 के बुरे दिन, पीएम मोदी के साथ आया विपक्ष

अरब की सबसे पुरानी मस्जिद

पुनीत ने बीती दो फ़रवरी को सबसे पहले यह तस्वीर शेयर की थी। इसके बाद हजारों की संख्‍या में लोगों ने इसे अलग-अलग शेयर किया है। दरअसल इस मस्जिद के ऊपर भगवान शिव और नंदी की झलक साफ दिखती है। इसके बाद से ही यह तस्‍वीर वायरल होना शुरू हुई। पुनीत ने तस्‍वीर के साथ कैप्‍शन में लिखा रासा अरब में सबसे पुरानी मस्जिद है। जूम करिए और देखिए, आप शिवलिंग और नंदी जी को देख सकते हैं। हर हर महादेव।

ये भी पढ़ें- कश्‍मीर में सेना ने उठाया बड़ा कदम, अब नहीं कर पाएंगे प्रदर्शन

पुनीत के अलावा कुछ और भी पोस्ट हैं जो यही दावा करती नज़र आ रही हैं। फ़ेसबुक और वॉट्सऐप जैसे प्लेटफ़ॉर्म्स पर भी यह तस्वीर शेयर की जा रही है। हिंदू न्यूज़ पत्र नाम की प्रोफ़ाइल ने भी इस तस्वीर को पुनीत के कैप्शन के साथ शेयर किया है। यहां से इसे 1600 से भी ज़्यादा बार शेयर किया गया है।

ये भी पढ़ें- दो दिन में आ सकता है बड़ा फैसला, धारा 370 खत्‍म करने की कवायद शुरू

पुनीत शर्मा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी फ़ॉलो करते हैं। ये तो था सोशल मीडिया का एक सच अब आपको इस तस्‍वीर की हकीकत से रूबरू कराते हैं। दरअसल इस तस्‍वीर का सच यह है कि न तो पुनीत की शेयर की गई इस तस्‍वीर का अरब से कोई नाता है और न ही उनकी पोस्‍ट में दी गई जानकारी में कोई सच्‍चाई।

 

पुनीत ने जिस रासा मस्जिद का जिक्र अपनी पोस्‍ट में किया है, वह अरब की सबसे पुरानी मस्जिद नहीं है। दूसरा यह कि पुरानी तो छोड़िए, रासा नाम की कोई मस्जिद सऊदी अरब में है ही नहीं। जिन मस्जिदों को यहां सबसे पुरानी मस्जिदों में से एक माना जाता है वे हैं मस्जिद-ए-हरम और मस्जिद-ए-क़ुबा।

=>

17 comments

  1. What is this

    • चौ. देव गुर्जर

      अँधा हैं दिख नही रहा क्या हैं ये

    • पढ ले ना भाई ………

    • Arif Khan ..this is absolutely not true ..look at the picture again you will c bunch of people hanging in an AUTO …this is you would C in India EveryDay ….
      I believe this is a temple in some part of india …

      Trust me this is not mosque in Some Arab country ….

    • photo shop,yeh sanghi “‘sun” per bhi sive ling bana denge.

  2. Punit say yeh pucha hota arab desh may haray bharay treess kaha say a gye
    Modi bhakt hoga punit or bhakto ko maharat hasil hy photoshop my

  3. its true… asalu veellu sonthaga emaina kattinchra.. ippudippudu kotha kotha musjid lu kattutunnaru kaani baabar kalmlo kuda veellu mana temples ni aakraminchukuni vaaduka dobbaru.. erracota kuda veelle kaatamani chepatru anni abbdhale veellaku appudu vaalla matanni vistarinchadam okkate lakshyam.. ipaatiki kuda ante.. kaani appudu rajula kaalam kanuka evadaite muslim raaju akraminchukunnado vaadiki adhe paniga temples ni convert chesaru kaani vellaku mataanni vistarinchadamlo unnanta shradha sontaga kattukune telivi, technology ee eddi kodukulaku teluvadhu…

  4. Mujhe to gandhi ji ki friend request ayi thi. To kya mahatma gandhi ab bhi zinda hai. Dear news reporter.. jb thik se na pta ho to… modi ji ko kyu bandnaam karte ho. aur rahi baat is masjid ki.. ye kahi ki bhi ho. Bharat me bahut si mandire tod k masjide bni hai.. chahe puja kare ya tum namaz padho.. waha pooja to ho hi rhi hai nahi.. baki bhagwan sab dekh rha hai…

  5. Jaise.. tum jaise reporter hai.. jhuthi report k liye.. waise hi fake id bnane wale bhi bahut hai. Mr. Reporter….

  6. शोयब अंसारी

    भाइयो गौर से पिछ को देखो अरब देश में गाड़ी के पीछे लोग लटक कर जा रहे है।
    हाहाहाहा????????????????????????

  7. Arab me khajuur k alava koi ped nhi h..
    This is a fake

  8. दिवाकर विश्वकर्मा 'विद्रोही'

    क्या सही है और क्या गलत ये न बताईये आप लोग। बस आप ये बताईये कि ये तस्वीर कहाँ की है और ये तस्वीर कितने प्रतिशत वास्तविकता से सम्बन्ध रखता है? ये मस्जिद है अथवा कुछ और, ये भी बताईये! कहाँ है ये भी बताईये ।
    बेवजह अराजकता न फैलाये।

  9. Ye majsjud arab ki bahi he. Ye bat. Saf he lekin. Majsjid me. Siv ling. Or nandi kyu. Ye bat bhi saf he hindutav ki safar bahut purani he
    Daliyo ko badal äkate he jad ko nahi

LIVE TV