तिलमिलाया ‘लश्कर-ए-तैयबा’, अमरनाथ यात्रियों की हत्या पर सुरक्षा एंजेसियों को दिया बड़ा जवाब

अमरनाथ यात्रानई दिल्ली। अमरनाथ यात्रा के दौरान यात्रियों की बस पर हुए हमले से जहां लोगों में सरकार के प्रति नाराजगी का गुबार फूट रहा है। वहीं सरकार भी इस घटना को लेकर काफी परेशान नज़र आ रही है। इस मामले की जड़ तक जाने और इसे रोकने के लिए केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर ही एक बड़ी मीटिंग भी बैठी। आशंका जताई गई कि हमले में लश्कर-ए-तैयबा और हिजबुल का हाथ है, लेकिन इस मामले में ट्विस्ट तब आ गया जब खुद लश्कर-ए-तैयबा ने इस हमले की कड़ी निंदा की।

अब घर बैठे अदा करें टैक्स, वित्तमंत्री ने लांच किया ‘आयकर सेतु’

ख़बरों के मुताबिक़ पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने हमले की निंदा की है। आंतकी संगठन ने इसे गैर इस्लामिक बताया है।

एलईटी के प्रवक्ता अब्दुल्लाह गजनवी ने कहा, ‘इस्लाम किसी भी आस्था के खिलाफ हिंसा की इजाजत नहीं देता है। हम ऐसी चीजों की मजबूती से आलोचना करते हैं’।

बता दें यह आतंकी संगठन इससे पहले भी इस तरह की घटना को अंजाम दे चुका है। लेकिन इससे पहले उसने खुद को लेकर इस तरह का क्लियेरिफिकेशन नहीं दिया। बता दें इस आतंकी हमले में 7 श्रद्धालुओं की मौत हो गई, वहीं 15 घायल हो गए।

पशु बिक्री अधिसूचना पर केंद्र सरकार को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

जम्मू कश्मीर के आईजी पुलिस मुनीर खान ने कहा, आतंकी वारदात का मास्टर माइंड लश्कर-ए-तैयबा का अबु इस्माइल है। उसने लोकल आतंकियों की मदद से इसे अंजाम दिया।

सुरक्षा बलों ने हमले में हिजबुल मुजाहिद्दीन के आतंकियों के भी शामिल होने की बात कही।

देखें वीडियो:-

=>
LIVE TV