Thursday , November 15 2018

विनता नंदा ने लिखा PM मोदी को खुले आम ख़त, कह दी महिलाओं से जूडी ये बड़ी बात

मुंबई. मी टू मुहीम के तहत बॉलीवुड के संस्कारी बाबू जी आलोक नाथ पर लगे यौन शोषण और रेप जैसे गंभीर आरोप के बाद अब विनता नंदा ने देश के प्रधानमंत्री मोदी को एक खुला खत लिखा है।

Alok-Nath-Vinta-Nand

दरअसल, लेखक-प्रोड्यूसर विनता नंदा ने 19 साल पहले हुए यौन शोषण पर # METOO मुहीम के तहत आरोप लगाया है। नंदा ने एक बयान में कहा कि ओशिवाड़ा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है।

ये भी पढ़ें:-#MeToo मूवमेंट पर बोले राज ठाकरे, मैं जानता हूं कि कितने शरीफ है नाना

अब विनता ने पीएम मोदी से उन्हें और मीटू मुहिम के तहत आगे आई महिलाओं के लिए इंसाफ की मांग की है. और विनता ने सोशल मीडिया के जरिये खुला ख़त लिख दिया हैं।

Alok-Nath-Vinta-Nand

विनता ने लिखा, ”डियर मोदी जी, राम की पूजा करने से पहले हम नवरात्री में दुर्गा की पूजा करते हैं। बुराई पर अच्छाई की जीत होती है. आज आप हमें न्याय दिलाने में मदद कीजिए. आज हम उस वक्त में जी रहे हैं जिसमें कानून का फायदा पीड़ित से आरोपी को मिलता है। आज हम उस समाज में हैं जिसमें अमीर और ताकतवर व्यक्ति नैतिकता से भी ऊपर हैं।”

Plea to the #PrimeMinisterOfIndia Dear Narendra Modi ji. We pray in #Navratri to #Durga who was worshipped by #Ram…

Gepostet von Vinta Nanda am Dienstag, 16. Oktober 2018

उन्होंने आगे लिखा कि आप हमें ऐसा कोई प्लेटफॉर्म मुहैया करवाएं जहां हमारी सुनवाई हो सके. मीटू मुहिम के चलते हमने अपने साथ हुए अत्याचार के खिलाफ बोलने की हिम्मत जुटाई है. देश का आवाम उसे सुन सके, हमारे द्वारा जुटाई गई हिम्मत व्यर्थ न हो. आज तक इस पुरुषप्रधान समाज में महिलाओं के साथ अत्याचार इसलिए होता रहा क्योंकि पुरुषों का मानना है कि ये देश महिलाओं के लिए नहीं है।

 

वही नंदा के वकील ने सोमवार को कहा था कि उनकी मुवक्किल यौन उत्पीड़न के खिलाफ अपनी लड़ाई में निडर बनी रहेंगी, चाहे उन्हें मानहानि मुकदमे का सामना ही क्यों न करना पड़े।

=>
LIVE TV