केंद्रीय मंत्री और पत्रकार एमजे अकबर भी Mee Too तूफान के लपेटे में, लगा महिला पत्रकारों के यौन शोषण का आरोप

केंद्रीय मंत्री और पत्रकार एमजे अकबर भी हाल ही में Mee Too कैंपेन का शिकार हो गए हैं। विदेश राज्य मंत्री पर पहले तो दो महिला पत्रकारों ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। लेकिन अब तीसरी महिला भी सामने आई है। प्रेरणा सिंह बिंद्रा नाम की महिला का कहना है कि उनके साथ हुई घटना 17 साल पुरानी है। अकबर उनसे अश्लील टिप्पणियां किया करते थे और उनका जीना मुश्किल कर दिया था। वह इतने सालों तक इसलिए चुप रहीं क्योंकि उनके पास सबूत नहीं थे।

केंद्रीय मंत्री और पत्रकार एमजे अकबर भी Mee Too तूफान के लपेटे में, लगा महिला पत्रकारों के यौन शोषण का आरोप

बता दें कि अकबर कई अखबार और पत्रिकाओं में संपादक रह चुके हैं। साल 2017 में भी एक महिला पत्रकार  ने बताया था कि उसके बॉस ने उसे होटल के कमरे में जॉब इंटरव्यू के लिए बुलाया था। प्रिया रमानी नाम की एक महिला ने ट्वीट किया है कि एमजे अकबर ने होटल रूम में इंटरव्यू के दौरान कई महिला पत्रकारों के साथ आपत्तिजनक हरकतें की हैं।
यह भी पढ़ें: World Post Day: आगरा का डाक विभाग क्यों है खास?
एमजे अकबर के बचाव में भाजपा के लोकसभा सांसद उदित राज उतरे हैं। उन्होंने महिला पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह 10 साल बाद सामने क्यों आई है। उदितराज ने मी टू कैंपेन को गलत प्रथा की शुरुआत होना भी बताया। उन्होंने यह भी कहा कि इतनी देरी की है तो सत्याता की जांच कैसे होग।

=>
LIVE TV