Thursday , November 15 2018

गोरखपुर में मिसाल बना यह परिवार, 100 सालों से कर रहा है यह दिलचस्प काम

रिपोर्टर-पंकज श्रीवास्तव

गोरखपुर में मिसाल बना यह परिवार, 100 सालों से कर रहा है यह दिलचस्प काम

गोरखपुर। गोरखपुर में मिसाल बना यह परिवार– बुराई पर अच्छाई की जीत का पर्व विजयदशमी( दशहरा) पूरे देश मे मनाया जाता है और विजयदशमी पर पर जलने वाले रावण के पुतले को कारीगर अंतिम रूप देने में जुट गए है।गोरखपुर में एक ऐसा मुस्लिम परिवार है जो हिन्दू मुस्लिम एकता का सन्देश देता है।

गोरखपुर में मिसाल बना यह परिवार

 

यह भी पढ़ें: चिकसाजी कारीगरों पर छाया रोजी-रोटी का संकट

यह परिवार एक दो साल नही बल्कि 100 साल से भी अधिक समय से रावण के पुतले बनाने का काम करता है। यहां के बेनीगंज इलाके में रहने वाले इस परिवार में वैसे तो कई लोग अन्य काम भी करते है लेकिन घर का एक सदस्य इस काम को जरूर सीखता है उनका मानना है कि दादा परदादा कई दशकों से रावण का पुतला बनाते चले आए और हम भी उनके इस कारोबार को आगे बढ़ाते चले आ रहे है क्योंकि इससे हिन्दू मुश्लिम एकता का भी संदेश मिलता है।

गोरखपुर में मिसाल बना यह परिवार

उन्होंने कहा कि वैसे तो इस पुतले को बनाने में लगने वाली कीमत भी अब उन्हें बमुश्किल से मिल पाती है लेकिन रामलीला समितियों की मांग को वो पूरा करने के लिए इस कारोबार से दूर नही हो पाते साथ ही दादा परदादा की यादे भी इस काम से जुड़ी है।

Watch our video news: देखिए क्यों मिला Saudi Arabia को India का साथ

=>
LIVE TV