भगवा रंग में रंगा प्राथमिक विद्यालय, ठेकेदार ने रंग को बताया आकर्षक

रिपोर्ट- रवि पांडे

सोनभद्र। सूबे में योगी सरकार बनते ही नेता से लेकर अधिकारी किस कदर भगवा रंग में रंगे है इसका जीता जागता सबूत है सोनभद्र के म्योरपुर ब्लाक का प्राथमिक विद्यालय रेहटा। जहाँ  पर नेताओ की चापलूसी की खातिर प्राथमिक विद्यालय ही भगवा रंग से रंग दिया गया।

bhagwa

इसके पीछे शिक्षा विभाग की क्या मंशा है यह तो नही पता लेकिन यह विद्यालय म्योरपुर में चर्चा का विषय बना हुआ है। लेकिन यह कोई इकलौता मामला नही है ऐसे कई मामले और भी प्रकाश में आये है जो योगी सरकार बनते ही भगवा में रग गयी। जब इस बाबत विद्यालय की पुताई करा रहे ठेकेदार से बात किया गया तो उनका कहना था कि कोई आदेश नहीं मिला है यह कलर देखने में चमकीला और सुंदर है इसलिए इस कलर में विद्यालय की रंगाई पुताई कराई जा रही है। वही अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ते हुए कार्यवाही की बात कर रहे हैं।

इस भगवा रंग का क्रेज यही खत्म नहीं होता दिख रहा है। जैसे -जैसे समय बीतता जा रहा है भगवा रंग का क्रेज बढ़ता जा रहा है।उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के प्राथमिक विद्यालय भी अब भगवा रंग में दिखने लगे है। सोनभद्र जिले के म्योरपुर ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय ग्राम रेहटा को पूरी तरह से भगवा रंग में रंगा गया है। इस विद्यालय को देखकर ये कहना गलत नहीं होगा कि लोगो को शिक्षित करने वाले भी राजनीति की तरफ बढ़ते दिख रहे है।विद्यालय का दीवार,शौचालय, में भले ही दरार हो ,छत से पानी टपक रहे हो, भले ही विद्यालय स्वच्छता अभियान को ठेंगा दिखाये लेकिन चापलूसी में लोग परिषदीय विद्यालयों का सरकारी कलर ही भूल गए जो सफेद रंग की दीवार और ग्रीन कलर की पट्टी है।

यह भी पढ़े: एनडीए उम्मीदवार हरिवंश नारायण सिंह ने दर्ज की जीत, बने राज्यसभा के उपसभापति

भगवा कलर में विद्यालय की रंगाई के बारे ने एबीएसए म्योरपुर एस0पी0 सहाय से बात किया गया तो वे खुद भगवा कलर में रगे नजर आए। उन्होंने कहा की ऐसा कोई आदेश नही है प्रधान या जिसने भी अज्ञानता वश इस कलर से कराया है वो गलत है। तत्काल इसको सुधारने के लिये निर्देशित किया जा रहा है।इसका जो मापदंड है उसी के हिसाब से कार्य होगा।

=>
LIVE TV