Tag Archives: प्रेरक प्रसंग

प्रेरक-प्रसंग: आखिर अरस्तू ने अपने गुरु को क्यों बताया मूर्ख

प्रेरक-प्रसंग

एक बार यूनान के दार्शनिक अरस्तू से एक विद्वान ने कहा, ‘मैं आपके गुरु से मिलना चाहता हूं।’ अरस्तू ने जवाब दिया, ‘आप हमारे गुरु से मिल नहीं सकते।’ विद्वान ने कहा, ‘क्या वह अब इस दुनिया में नहीं हैं?’ अरस्तू ने कहा, ‘हमारे गुरु कभी नहीं मरते।’ विद्वान को ...

Read More »

प्रेरक-प्रसंग: परिश्रम का ज्ञान 

परिश्रम का ज्ञान 

  बुद्ध की सभा में हर तरह के लोग आते थे। उनमें भोले ग्रामीण, विद्यार्थी, महिलाएं, नगरसेठ भी होते थे। सभा में सबको समान रूप से मान-सम्मान मिलता था और बुद्ध उन्हें उनके स्तर के अनुरूप ही शिक्षा देते थे। अपने प्रभावशाली तरीके से वह भक्तों के हृदय में उतर ...

Read More »

प्रेरक-प्रसंग: ‘‘ज्ञानी तो निडर भया’’

प्रेरक-प्रसंग: ‘‘ज्ञानी तो निडर भया’’

एक गुरू गोविन्दसिंह जी ने शिष्यों की परीक्षा लेनी चाही । उन्होंने तम्बू में पहले से पाँच बकरे बाँधकर रख दिये । और उपस्थित सिक्ख समूह के सामने, जिनकी संख्या लगभग पाँच हजार थी । हाथ में नंगी तलवार लेकर आये और कहा, क्या तुममें से कोई एक अपना सिर ...

Read More »

प्रेरक-प्रसंग: जब एक दुकानदार ने तपस्वी को पढ़ाया जीवन का पाठ

प्रेरक-प्रसंग

तपस्वी जाजलि श्रद्धापूर्वक वानप्रस्थ धर्म का पालन करने के बाद खड़े होकर कठोर तपस्या करने लगे। उन्हें गतिहीन देखकर पक्षियों ने उन्हें कोई वृक्ष समझ लिया और उनकी जटाओं में घोंसले बनाकर अंडे दे दिए। अंडे बढे़ और फूटे, उनसे बच्चे निकले। बच्चे बड़े हुए और उड़ने भी लगे। एक ...

Read More »

प्रेरक प्रसंग : मर्म की बात

प्रेरक प्रसंग

बात उस समय की है जब विनोबा भावे गांव गांव घूमकर भूदान यज्ञ के लिये भूमि एकत्र कर रहे थे। उनके पास क्या था? न धन, न कोई बाहरी सत्ता, पर सेवा के जोर पर उन्होंने करोड़ों लोगों के दिलों में अपना घर बना लिया। उन्हें चालीस लाख एकड़ से ...

Read More »

प्रेरक-प्रसंग: राष्ट्रहित के लिए सभी को लेना चाहिए यह संकल्प

राष्ट्रहित के लिए सभी को लेना चाहिए यह संकल्प

महात्मा गांधी ने सारे भारत का जीवन बनाया और अपने जीवन का अधिक भाग जेल के भीतर बिता दिया। बात तब की है, जब बापू पहरे के अधीन थे, संगीनों के साए में, मनुबेन भी साथ थीं। मनुबेन ने जेल अधीक्षक से एक नोटबुक मंगवाई। बापू ने नोटबुक देखी तो ...

Read More »

प्रेरक-प्रसंग: हकीकत का आईना

हकीकत का आईना

एक नगर में एक मशहूर चित्रकार रहता था। चित्रकार ने एक बहुत सुन्दर तस्वीर बनाई और उसे नगर के चौराहे मे लगा दिया और…  नीचे लिख दिया कि जिस किसी को जहाँ भी कोई कमी नज़र आए वो निशान लगा सकता है। जब उसने शाम को तस्वीर देखी उसकी पूरी ...

Read More »

प्रेरक-प्रसंग: ये हैं जिंदगी में खुश रहने का सबसे अच्छा तरीका

ये हैं जिंदगी में खुश रहने का सबसे अच्छा तरीका

किसी नगर में एक विद्वान साधु रहता था। लोग उसके पास अपनी समस्याएं लेकर आते और समाधान पाकर प्रसन्नचित्त होकर लौट जाते। एक दिन एक सेठ साधु के पास आकर बोला, ‘महाराज, मेरे पास किसी चीज की कमी नहीं है फिर भी मेरा मन अशांत रहता है। कृपया बताएं कि ...

Read More »

प्रेरक-प्रसंग: जो सीख बड़े-बूढ़े नहीं दे पाए, वो सीख दे देगी इस बच्चे की कहानी

प्रेरक-प्रसंग

चंद्र प्रकाश के चार साल के बेटे को पंछियों से बेहद प्यार था। वह अपनी जान तक न्योछावर करने को तैयार रहता। ये सभी पंछी उसके घर के आंगन में जब कभी आते तो वह उनसे भरपूर खेलता। उन्हें जी भर कर दाने खिलाता। पेट भर कर जब पंछी उड़ते ...

Read More »

एक ऐसा विद्वान जिसने समुद्री यात्रा के दौरान बताई ईमानदारी और सच्चाई की ताकत

ईमानदारी और सच्चाई

सऊदी अरब में बुखारी नामक एक विद्वान रहते थे। वह अपनी ईमानदारी के लिए मशहूर थे। एक बार वह समुद्री जहाज से लंबी यात्रा पर निकले। उन्होंने सफर के खर्च के लिए एक हजार दीनार अपनी पोटली में बांध कर रख लिए। यात्रा के दौरान बुखारी की पहचान दूसरे यात्रियों ...

Read More »
LIVE TV