Sunday , September 24 2017

क्लेमनटाउन में छात्र की संदिग्ध मौत, परिजनों का हुआ बुरा हाल

गोली हत्यादेहरादून । क्लेमनटाउन क्षेत्र से एक दर्दनाक हत्या का मामला सामने आया है। यहां सोसाइटी एरिया के एक घर में संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से एक मासूम बच्चे की मौत हो गयी। मरने वाला बच्चा 11वीं में पढ़ता था और अपने मां बाप का इकलैता चिराग था। अफसोस की बात जो अब बुझ चुका है।  मौत के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पंचनामा भरकर मोर्चरी में रखवा दिया।

कोटद्वार निवासी मरने वारे छात्र के पिता जोशीमठ में सेना में तैनात हैं। शुक्रवार देर शाम राजेंद्र की पत्नी दीपा देवी अपनी बेटी राखी के साथ सब्जी लेने बाजार चली गई थीं। मगर उनका बेटा दीपक घर में था। इस दौरान घर के बेडरूम में रखी राजेंद्र की सिंगल बैरल लाइसेंसी बंदूक से गोली चली।

गोली की आवाज से दहशत में पड़ोसी

गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग घबरा गये। घर से बाहर आने के बाद पता चला कि  गोली राजेंद्र जी के घर से चली है तो लोगों की भीड़ उनके घर की तरफ दौड़ पड़ी, साथ ही दीपक की मौत का पता लगते ही उसकी मां और बहन घर पर पहुंचीं तो देखा कि दीपक मृत पड़ा है।

घटना के बाद उन्होंने अपने पति राजेंद्र जखवाल के साथ ही पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने फारेंसिक टीम को बुलाया। फारेंसिक टीम ने मौके से सारे सबूत जुटाए।

एसओ नेगी ने बताया कि जबड़े से सटाकर गोली लगने से दीपक की मौत हुई है। कमरे से न तो कोई सुसाइड नोट मिला और न ही घटना के वक्त घर में कोई देखा गया। दीपक आर्मी पब्लिक स्कूल क्लेमनटाउन में 11वीं कक्षा में पढ़ता था।

मौत के बाद बिलखते परिजन

दीपक की मां दीपा और बीएसएसी की पढ़ाई कर रही बहन राखी दोनो का रो-रो कर बुरा हाल है। यह हादसा सुनकर परिजनों का भी हाल बुरा हो रखा है। अपने इकलौते बेटे और भाई को खोने के बाद दोनों बेसुध हैं।

गुरुग्राम: स्कूल छात्र की हत्या के आरोपी कंडक्टर ने कबूला अपना जुर्म

अयोध्या में राम मंदिर के पक्षकार महंत भास्कर दास का निधन

 

=>
LIVE TV