तेज रफ्तार मर्सिडीज कार की टक्कर से 32 साल के शख्स को दी दर्दनाक मौत

एजेन्सी/  cctv-footage_650x400_41460005550नई दि्ल्ली: दिल्ली के सिविल लाइंस इलाके में तेज रफ्तार मर्सिडीज कार की टक्कर का सीसीटीवी वीडियो सामने आया है। इस हादसे में सिद्धार्थ शर्मा (32 साल) नाम के एक शख्स की मौत हो गई थी। तस्वीरों में दिख रहा है कि जैसे ही सिद्धार्थ शर्मा सड़क के दूसरे छोर पर पहुंचने वाले होते हैं तभी एक तेज रफ्तार मर्सिडीज कार उन्हें टक्कर मार देती है।

तेज रफ्तार कार ने मारी टक्कर
यह हादसा इतना भयानक था कि टक्कर के बाद वह काफी दूर जाकर गिरते हैं। मर्सिडीज़ कार 12वीं में पढ़ने वाला एक छात्र चला रहा था। यह घटना सोमवार रात 9 बजे की है।

सिद्धार्थ ने बचने की कोशिश की थी
वीडियो फुटेज में साफ दिखाई दे रहा है कि सिद्धार्थ शर्मा को यह अहसास हो गया था कार धीरे नहीं होगी और उन्होंने दौड़ने की कोशिश भी की थी, लेकिन वह नहीं बच सके।

पुलिस का बयान
पुलिस का कहना है कि मार्केटिंग कंसल्टेंट ने बांयी ओर देखा और जल्दी से फुटपाथ की तरफ भागा, लेकिन चंद सेकेंड में 100 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से आ रही मर्सिडीज ने उसे टक्कर मारकर उड़ा दिया। वीडियो में ड्राइवर रफ्तार कम करने की या पीड़ित से टक्कर को रोकने की कोशिश करता दिखाई नहीं दे रहा है।

जश्न मनाने निकला था छात्र
इस बेकाबू कार को 17 साल का स्कूली छात्र चला रहा था, जो अपने दोस्तों के साथ कथित तौर पर 12 की परीक्षा खत्म होने को सेलीब्रेट करने निकला था।

छात्र को मिली जमानत
सिद्धार्थ को टक्कर मारने के बाद मर्सिडीज फुटपाथ पर चढ़ गई और फ्रंट के टायर फटने की वजह से रुक गई। नाबालिग ने अपनी कार को वहीं छोड़ा और दोस्तों के साथ भाग गया। इसके बाद उसके गिरफ्तार किया गया, लेकिन कुछ ही घंटों में उसे बेल मिल गई। छात्र के पिता पर ‘नाबालिग को गाड़ी चलाने के लिए इजाजत’ देने का आरोप लगाया है, लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया।

सिद्धार्थ के पिता का बयान
इकलौते बेटे सिद्धार्थ को इस हादसे में खोने वाले पिता हेमराज शर्मा ने इस पूरी जांच प्रक्रिया को मजाक बताया है। उन्होंने एनडीटीवी से कहा कि पुलिस ने इस पूरे मामले को जिस तरह से हैंडल किया है, उस पर कई सवालिया निशान हैं।

=>
LIVE TV