मैदान में उतरा कांग्रेस का बूढ़ा सिपाही, पूरा होगा राहुल गांधी का सपना!

भोपाल। लोकसभा चुनाव 2019 और साल के अंत में मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में मोदी लहर को रोकने के लिए कांग्रेस पार्टी कोई भी कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती। इसी क्रम में कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में बड़ा परिवर्तन किया है। राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश में कांग्रेस की कमान अपने दिग्गज नेता कमलनाथ को सौंप दी है।

कमलनाथ

 

कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कमलनाथ को मध्यप्रदेश का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया है। कमलनाथ के पास इस समय हरियाणा और पंजाब का प्रभार है। इतना ही नहीं जनता के बीच में पार्टी की अच्छी छबि बनाने की जिम्मेदारी यानी प्रचार-प्रसार की जिम्मेदारी ज्योतिरादित्य सिंधिया को सौंपी है।

पार्टी महासचिव अशोक गहलोत की ओर से जारी एक चिट्ठी में बताया गया है कि कमलनाथ को मध्यप्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया है। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव प्रचार समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। गौरतलब है कि इसी साल के अंत में मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें : दबाव में SC कोलेजियम, मोदी सरकार ने ऐसे लिया जस्‍टिस जोसेफ से बदला!

अध्यक्ष नियुक्त किए जाने के बाद कमलनाथ ने कहा कि वह आपसी तालमेल से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)और गैर धर्मनिरपेक्ष ताकतों की हार सुनिश्चित करने के लिए काम करेंगे।

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की अनुशंसा पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने पार्टी इकाई में बदलाव का आदेश जारी किया।

अध्यक्ष बनाए जाने के बाद कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा, “प्रदेश अध्यक्ष के रूप में जो जिम्मेदारी मुझे सौंपी गई है उसके लिए मैं प्रतिबद्घता, साहस और आपसी तालमेल के साथ भाजपा और गैर-धर्मनिरपेक्ष ताकतों की हार सुनिश्चित करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करूंगा।”

कमलनाथ ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी को उन पर विश्वास जताने के लिए धन्यवाद दिया।

कमलनाथ की इस नियुक्ति पर कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के. के. मिश्रा ने संवाददाताओं से कहा, “कमलनाथ सिर्फ प्रदेश के नहीं देश में पहचान रखने वाले नेता हैं। कमलनाथ की नियुक्ति के साथ पार्टी चुनाव मोड में आ गई है।”

यह भी पढ़ें : कुशीनगर : घटनास्थल पहुंचे CM योगी, पीड़ितों से मुलाक़ात कर कमिश्नर से मांगी जांच रिपोर्ट

जानकारी के लिए बता दें कि इसी महीने की शुरुआत में भारतीय जनतापार्टी ने भी BJP प्रदेश अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी के लिए राकेश सिंह का नाम घोषित किया है। राकेश सिंह राकेश सिंह जबलपुर से तीन बार सांसद रहे हैं और 2004 से जबलपुर संसदीय सीट से सांसद हैं। 2014 में वो तीसरी बार लोकसभा पहुंचे हैं। इन्हें मजबूत संगठनात्मक कौशल रखने वाले व्यक्ति के रूप में जाना जाता है। ये महाराष्ट्र बीजेपी के भी प्रभारी हैं।

मध्य प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के इन दिग्गज चेहरों को पार्टी को प्रचंड जीत दिलाने की जिम्मेदारी होगी।

=>
LIVE TV