Sunday , September 24 2017

देहरादून से अपहरण, मुजफ्फरनगर में गैंगरेप

देहरादून। उत्तराखंड में मर्डर से लेकर आपहरण जैसी वारदातों का सिलसिला थम नहीं रहा है। मानवता को शर्मसार करने वाला एक आपहरण का मामला दून से सामने आया है। लखनऊ से देहरादून घूमने आई बीएससी की छात्रा का आईएसबीटी से कार सवार कुछ युवकों ने शुक्रवार रात अपहरण कर लिया।कार में गैंगरेप

आपहरणकर्ताओं ने छात्रा को मुजफ्फरनगर लाकर उसके साथ गैंगरेप किया और शनिवार दोपहर सहारनपुर के गागलहेड़ी क्षेत्र के गांव नागलहेड़ी में फेंककर भाग गए। पुलिस ने छात्रा को मेडिकल जांच के लिए भेजकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

पीड़िता शुक्रवार रात वह देहरादून आईएसबीटी पर लखनऊ की बस पकड़ने के लिए खड़ी थी। वहां से कार सवार युवक जबरन उठाकर उसे अपने साथ ले गए। रात में उन्होंने उसे किसी जगह पर रखा, जहां बोर्डो पर मुजफ्फरनगर लिखा हुआ था। वहां एक स्थान पर चारों युवकों ने उसे जबरन शराब पिलाई और उसके साथ गैंगरेप किया।

प्रद्युमन के बाद राजधानी में एक और मौत, प्रशासन ने कहा- बीमार था छात्र

गागलहेड़ी क्षेत्र का गांव नागलहेड़ी सड़क से करीब दो किमी दूर शनिवार दोपहर के समय गांव में कुछ युवक चलती कार से छात्र को धक्का देकर भागने लगे। लड़की के शोर मचाने पर खेतों में काम कर रहे ग्रामीणों ने कार रोकने का प्रयास किया। लेकिन कार सवार वहां से भाग निकले। युवती पूरी तरह नशे में धुत बताई जा रही है। ग्रामीणों के मुताबिक, उसने खुद को लखनऊ का निवासी बताया और कहा कि वह अपने दोस्तों के साथ देहरादून घूमने आई थी।

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि मामले की जांच सीओ सदर को सौंपी गई है। युवती का मेडिकल जांच कराया जा रहा है। युवती का जो आरोप है उनकी जांच कर कार्रवाई की जाएगी। परिजनों को नहीं पता कैसे पहुंची देहरादून। युवती ने अपनी बहन का नंबर बताया था। जिस पर बात करने पर पता चला कि वह लखनऊ में अपनी बहन के परिवार के साथ रहती है।

लखनऊ में ही बीएससी की छात्र है। उनके घर में चार दिन पहले ही एक परिजन की मौत हुई है। इस कारण उसकी बहन अपनी ससुराल गई हुई थी। युवती घर पर अकेली थी। ऐसे में वह लखनऊ से देहरादून कब और किसके साथ पहुंच गई। इस बारे में परिजनों को भी कोई जानकारी नहीं है।

 

 

 

=>
LIVE TV