Tuesday , September 25 2018

चुनावी घमासान… सिंधिया के इस पैतरें से उड़ जायेंगे ‘मामा’ के होश!

खजुराहो। मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की चुनाव प्रचार अभियान समिति के प्रमुख ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बुधवार को यहां कहा कि पार्टी 30 प्रतिशत ऐसे लोगों को उम्मीदवार बनाएगी, जिन्होंने पहले कभी विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा है, हालांकि उनकी राजनीतिक तौर पर सक्रियता आवश्यक होगी।

सिंधिया

सक्षम उम्मीदवार की तलाश के लिए पार्टी सर्वेक्षण करा रही है। चुनाव प्रचार अभियान समिति की बैठक में हिस्सा लेने आए सिंधिया ने संवाददाताओं से कहा, “पार्टी का लक्ष्य अगला विधानसभा चुनाव जीतना है, लिहाजा नए चेहरों को मौका दिया जाएगा। इसी के चलते प्रदेश की लगभग 70 सीटों पर ऐसे लोगों को मौका दिया जाएगा, जिन्होंने विधानसभा का कभी चुनाव न लड़ा हो, मगर यह जरूरी होगा कि उनकी राजनीतिक पृष्ठभूमि हो। वे चाहे पंचायत के प्रतिनिधि रहे हों या नगर निकायों के।”

पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, “आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस सक्षम उम्मीदवारों की तलाश के लिए सर्वेक्षण करा रही है और सर्वेक्षण में जिन लोगों के नाम आएंगे, पार्टी उन्हें अपना उम्मीदवार बनाएगी। कांग्रेस के लिए आगामी विधानसभा चुनाव जीतना बड़ा लक्ष्य है।”

सिंधिया ने केंद्र सरकार और मध्य प्रदेश की सरकार पर जमकर हमला बोला और दोनों को जुमले की सरकार बताया। उन्होंने कहा, “एक तरफ राज्य में लगातार दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ रही हैं, महिलाएं पूरी तरह सुरक्षित नहीं हैं, बच्चियों के साथ हैवानियत हो रही है तो दूसरी ओर किसानों को उनकी उपज का उचित दाम भी नहीं मिल पा रहा है। केंद्र सरकार ने समर्थन मूल्य का ऐलान तो किया, लेकिन उससे किसान को कोई लाभ नहीं होने वाला है, किसान को जिन आधारों पर फसल का दाम मिलना चाहिए, वह नहीं मिलेगा। यह पूरी तरह वादा खिलाफी है।”

यह भी पढ़ें:- कांग्रेस की मांग पीएम मोदी का नाम ‘गिनीज बुक’ में हो दर्ज, जानें दिलचस्प वजह

सिंधिया ने कहा, “सरकार को यह कोशिश करनी चाहिए कि खरीदी व्यवस्था बेहतर हो, क्योंकि राज्य में जो व्यवस्था लागू है, उसमें किसानों को कोई लाभ नहीं होगा, किसान भटकते रहते हैं और बिचौलिए लाभ उठा लेते हैं।”

सिंधिया ने मंदसौर की घटना का जिक्र करते हुए कहा, “किसान जब अपना हक मांगता है तो उसे सरकार के अत्याचारों का निशाना बनना पड़ता है। राज्य में जहां एक तरफ हर रोज महिलाओं से दुष्कर्म की खबरें आ रही हैं तो दूसरी ओर किसान भी कम परेशान नहीं है। युवा बेरोजगारों के साथ सरकार छल कर रही है, आने वाले विधानसभा चुनाव में इस प्रदेश की जनता शिवराज सरकार को जवाब देगी।”

यह भी पढ़ें:- ट्विटर पर भी पीएम मोदी का दबदबा कायम, बने विश्व के दूसरे सबसे प्रभावशाली नेता

उन्होंने कहा, “अब समय आ गया है कि भाजपा की प्रदेश सरकार को अपने काम के ब्यौरे के साथ लोगों के सवालों के जवाब भी देने चाहिए। जनता सरकार से लगातार पूछ रही है कि वह बताएं कि आखिर उसने 15 साल में क्या किए हैं।”

देखें वीडियो:-

=>
LIVE TV