बॉलीवुड में डेब्यू करने जा रही अभिनेत्री का कहना #METOO को मजाक न बनाएं

मुंबई| अभिनेत्री ऐश्वर्या देवान ने ‘मी टू’ अभियान को मजाक बनाने के खिलाफ आगाह किया है। ऐश्वर्या आगामी फिल्म ‘काशी इन सर्च ऑफ गंगा’ की रिलीज की तैयारी कर रही हैं। ऐश्वर्या ने ‘मी टू’ अभियान के समर्थन में शनिवार को मीडिया से बातचीत की लेकिन उन्हें लगता है कि यह अच्छा है कि सही कारण के लिए इसका प्रयोग किया जाए न कि लाइमलाइट में आने के लिए।

Aishwarya Devan

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि यह अच्छा है कि महिलाएं आगे आ रही हैं और इसके बारे में बोल रही है लेकिन इस ‘मी टू’ अभियान को एक मजाक मत बनने दीजिए।”

ये भी पढ़ें:-शोहरत को अधिक तवज्जो नहीं देती : सोहा अली खान

ऐश्वर्या ने कहा, “उन महिलाओं की इज्जत कीजिए, जो इस तरह की घटनाओं से गुजरी हैं और उनके साथ खड़े होइए। लेकिन मैं लोगों से अनुरोध करना चाहती हूं कि इसे किसी के खिलाफ अपनी निजी दुश्मनी निकालने का माध्यम न बनाएं। यह दो लोगों का मामला है और इसे मीडिया में लाने के बजाए अदालत में ले जाया जाना चाहिए। इसका चलन न बनाएं और इसके खिलाफ कानूनी प्रक्रिया अपनाएं।”

धीरज कुमार द्वारा निर्देशित और मनीष किशोर द्वारा लिखित ‘काशी इन सर्च ऑफ गंगा’ 26 अक्टूबर को रिलीज होगी।

Aishwarya Devan

अभिनेत्री ऐश्वर्या देवन का कहना है कि वह एक मजबूत महिला किरदार के साथ बॉलीवुड में डेब्यू करने के लिए खुश हैं. ऐश्वर्या ने अपनी आगामी फिल्म ‘काशी इन सर्च ऑफ गंगा’ के प्रचार के दौरान संवाददाताओं से यह बात कही. यह उनकी पहली फिल्म है.

इस फिल्म में ऐश्वर्या को लखनऊ की एक पत्रकार देविना के रूप में देखा जाएगा. इस पर बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैंने दक्षिण भारतीय फिल्मों में मजबूत भूमिकाएं नहीं निभाई, इसलिए मुझे खुशी है कि बॉलीवुड में मेरी पहली भूमिका एक मजबूत महिला किरदार की है. नवोदित निर्देशक (धीरज कुमार) ने इस फिल्म में मेरी बहुत मदद की है.

=>
LIVE TV