29 दिन तक कोमा में रही थी ये अभिनेत्री, रातों-रात बनी थी स्टार

11 जनवरी 1969 को अनु का जन्म दिल्ली में हुआ था। 21 साल की उम्र में अनु ने एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा। आज लोगों ने अनु अग्रवाल को भुला दिया , लेकिन एक ऐसा दौर था जब महेश भट्ट की नजर अनु पर पड़ी और उन्होंने अनु को अपनी फिल्म आशिकी में बतौर लीड एक्ट्रेस लेने का फैसला कर लिया था, फिल्म में अनु ने अपने अभिनय से लोगों का दिल जीता और रातों- रात अशिकी फिल्म से वह एक स्टार बन गई।

Aashiqui Actress Anu Aggarwal's

फिल्म आशिकी के बाद अनु ने गजब तमाशा, खलनायिका, किंग अंकल, कन्यादान और रिटर्न टू ज्वेल थीफ जैसी फिल्में की, यह फिल्म कुछ ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाई। हिंदी सिनेमा के साथ साथ अनु ने तमिल फिल्मों में भी अपना लक आजमाया, उन्होंने थिरुादा- थिरुदा में काम किया। यहां तक कि उन्होंने अपने करियर के डूबते जहाज को उभारने के लिए एक शॉर्ट फिल्म द क्लाऊड डोर भी की, लेकिन उनके बुरे वक्त ने जैसे उनका हाथ थाम लिया था।

कोहरे ने रोकी 11 ट्रेनों की रफ्तार, सप्ताह के अंत में हो सकती है बारिश

अनु को अहसास होने लगा था कि फिल्मी दुनिया में अब उनका जादू नहीं चलेगा। साल 1996 में अनु ने अपना रुख बॉलीवुड से मोड़ कर योग की तरफ कर लिया था। बता दे साल 1999 के दौरान अनु की जिंदगी में एक ऐसा तूफान आया …जो अपने साथ अनु का यादें तक बहाकर ले गया। इस दौरान अनु एक दर्दनाक सड़क हादसे का शिकार हुई। हादसे में उनकी याददाश्त पर तो असर डाला ही। साथ ही इस हादसे ने उनसे चलने फिरने की शक्ति भी छीन ली। हादसे के बाद वह 29 दिन तक कोमा में रहीं।

तीन साल की कड़ी मशक्कत और इलाज के बाद अनु अपने जीवन की धूंधली यादों तक पहुंच पाई। हालत में सुधार आने के बाद अनु ने फैसला लिया और अपनी सारी संपत्ति दान कर …सन्यास को गले लगा लिया। इस बीच अनु फिल्मी दुनिया से गायब सी हो गई थी। अनु की एक फोटो अचानक सामने आई और उसके बाद अनु अग्रवार मीडिया की सुर्खियां बन गई।…इस फोटों में अनु बेहद ही बुरी हालत में नजर आई थी। वहीं साल 2015 के दौरान अनु अग्रवाल अपनी आत्मकथा ‘अनयूजवल: मेमोरी ऑफ ए गर्ल हू केम बैक फ्रॉम डेड’ को लेकर चर्चा में रही। जिंदगी को कई टुकड़ों में जीने के बाद अनु अब बिहार के मुंगेर जिले में अकेली रहती हैं और योग सिखाती हैं।

=>
LIVE TV