2018 का वो रेप केस, जिसमें युवती के साथ हुई बर्बरता सुन कांप जायेंगे !

जयपुर से करीब 20 किलोमीटर दूर कानोता के जंगल में नग्न और जख्मी हालात में मिली 27 वर्षीय युवती को एसएमएस अस्पताल से छुट्टी मिल गई है.

उस युवती को लेकर पुलिस जंगल में पहुंची थी ताकि घटनास्थल का नक्शा बना सके. पुलिस ने घटनास्थल पर उस युवती से जानकारी ली. जब युवती ने अपने साथ हुई बर्बरता की कहानी सुनाई तो सबके होश उड़ गए.

युवती के अनुसार, वर्ष 2018 में उसने ज्योति नगर थाने में कांस्टेबल कपिल शर्मा के खिलाफ बलात्कार और जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज कराया था.

इस साल उसकी दीपेश चतुर्वेदी नाम के एक आदमी हुई. दीपेश ने अपना परिचय सचिवालय स्थित मानवाधिकार आयोग के उपनिदेशक के रूप में दिया.

कपिल को गिरफ्तार कराने का आश्वासन देकर दीपेश ने उससे 45 हजार रुपए ले लिए. जब वह सचिवालय गई तो मानवाधिकार आयोग में दीपेश नाम का कोई आदमी नहीं मिला.

 

उम्मीदें : मोदी सरकार ला सकती है शुरुआत में ये 4 बड़ी योजनाएं !

 

गत मंगलवार की रात 9.15 बजे वह प्रेम नगर स्थित दीपेश के घर पहुंची. वहां दीपेश के परिजनों को दीपेश से हुई बातचीत की रिकॉडिंग सुना रही थी, तभी पीछे से किसी ने सिर में जोर से मारा. होश आया तो वह एक कमरे में बंद थी. वहां पर दीपेश, कपिल और दो अन्य युवक थे.

युवती के अनुसार उन लोगों वीडियो कॉल के जरिए डॉक्टर अनुराग शर्मा से बात की और कहा कि इसको सबक सिखा दिया है. युवती ने कहा कि सिगरेट से उसके इंटरनल पार्ट को दागा गया था.

उसमें इंजेक्शन लगाकर रखा था. जगह-जगह ब्लेड से चीरा लगाया था. उसके बाद भी सबने उसके साथ फिर मारपीट की. इससे बेहोश हो गई. होश आया तो वह जंगल में पड़ी थी. उसके मुंह में कपड़ा ठूंसकर टेप लगा रखा था और हाथ-पैर बंधे थे.

पुलिस ने पूछा कि वह मुख्य सड़क तक वह कैसे पहुंची? और उसे जंगल में कहां पड़ी थी? अस्पताल में पहुंचे मजिस्ट्रेट ने उस युवती का बयान दर्ज कर लिया है.

इस मामले में फरार चल रहे कांस्टेबल कपिल शर्मा को बुधवार देर रात ज्योति नगर थाना पुलिस ने एलबीएस कॉलेज के पास से पकड़ लिया है. इसके पुलिस ने पीड़ित युवती की बताई गई बातों की पुष्टि भी की.

पुलिस की टीमों ने गुरुवार को युवती की बताई गई, उस जगह के आस-पास के इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया, जहां उसे फेंका गया था. पुलिस मामले की लेकर पुलिस को कई सबूत मिले हैं. जिनकी तस्दीक की जा रही है.

आगरा रोड प्रेम नगर के नजदीक शनि मंदिर के पास मंगलवार की देर रात एक 27 वर्षीय युवती के नग्न हालात में पड़े होने की सूचना पुलिस को मिली थी.

मौके पर पहुंची पुलिस को युवती का मुंह टेप से चिपका हुआ मिला और उसके पैर उसी के अंत:वस्त्र से बंधे थे. युवती ने बताया था कि रस्सी से बंधे हाथ उसने बड़ी मशक्कत से खोल लिए थे और कुछ दूर स्थित वारदात स्थल से घिसटते हुए वह मुख्य रोड तक पहुंची थी. युवती को पुलिस ने एसएमएस अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया था.

 

=>
LIVE TV