बालूशाही

balooमीठा अगर घर में बनाया जाए तो क्वालिटी भी अच्छी होगी और स्वाद भी। तो ये है आपके लिए बालूशाही की रेसिपी पर एक नजर डालते हैं।

सामग्री-बालूशाही के लिए मैदा एक किलो, दही १०० ग्राम, पानी ३७५ मिली, देसी घी ३०० ग्राम, लाल रंग (फूड ग्रेड) २-३ बूंद, तलने के लिए तेल, चाशनी के लिए चीनी डेढ़ किलो, पानी १ लीटर, लाल रंग २-३ बूंद, केवड़ा जल कुछ बूंदें, दूध २० ग्राम।
विधि-मैदा बरतन में छान लें सामग्री को एक-एक करके मिलाएं और गूंध लें। आटे को ५-१० मिनट तक गीले कपड़े से ढक दें। आटे की बराबर आकार की लोइयां बना लें (लगभग २५ ग्राम वजन की) और एक तरफ रख दें।
बालूशाही तलें-बड़ी कड़ाही में तेल को गर्म कर लें, मैदे की लोइयों को हथेली पर रखकर दबाकर चपटा कर लें औैर तेल में डाल दें। धीमी आंच पर तलें। लोइयों को हल्का सुनहरा होकर ऊपर आने पर आंच को तेज कर दें। पांच मिनट के लिए तलें। निकाल कर रख लें।

चाशनी के लिए-पानी, चीनी और दूध को मिलाकर उबाल लें। पहला उबाल आने पर आंच धीमी कर दें, झाग निकाल दें। दो से तीन मिनट के बाद रंग और केवड़ा जल मिलाएं फिर सामान्य तापमान पर ठंडा होने दें।
तली हुई लोइयों को चाशनी में एक से दो मिनट के लिए डालकर निकाल दें। फिर इन्हें छन्नी पर रखकर एक से दो चम्मच चाशनी ऊपर से डाल दें। प्लेट में बालूशाही को अच्छे से सजाएं। तैयार बालूशाही पर चांदी का वर्क लगाएं। कटे पिस्ते और मगज से सजाएं।

ध्यान रखें– आटा नरम गूंधा हुआ होना चाहिए अन्यथा जब हम लोइयों को तलेंगे तो वे सख्त हो जाएंगी। लोइयों को धीमी आंच पर तलें। जब लोइयां ऊपर आ जाएं तो आंच बढ़ा दें, नहीं तो उनमें तेल भर जाएगा। आप देखेंगे कि इस प्रकार की बनी बालूशाहियों में बाजार की बालूशाहियों से कहीं ज्यादा मजा आ रहा होगा और स्वास्थ्य की दृष्टि से तो ये अच्छी हैं ही।

=>
LIVE TV