जौहर विश्वविद्यालय और आलियागंज के किनारे सड़क निकालने और घर जमीदोज किये जाने का मामले ने लिया हिंसक रूप

791d9db3-826c-4fdc-881c-7f9b904fa119रामपुरः– पिछले चार दिन से चल रहे जौहर विश्वविद्यालय और आलियागंज के किनारे सड़क निकालने और घर जमीदोज किये जाने का मामले ने आज हिंसक रूप ले लिया। पुलिस और आलियागंज  निवासी आमने सामने आ गये। पुलिस पर उपद्रवियों ने जमकर पथराव और लाठीडंडे चलाये वहीं पुलिस ने स्थिति को काबू करने के लिए बलप्रयोग किया। मामले में आज सुबह एडीएम और एएसपी सहित अन्य अधिकारी मामले का हल निकालने के लिए पहंुचे थे कि उपद्रवियों ने अधिकारियों पर जमकर पथराव कर दिया। भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े। पुलिस ने बलप्रयोग कर पूरा आलियागंज के घरों में घुस घुस कर लोगों से खाली करा दिया। वहीं महिलाओं ने जमकर चीख पुकार मचाई। आपको बता दें कि चार रोज पहले जिला प्रशासन ने गुपचुप तरीके से आलियागंज के कुछ घरों को बुलडोजर चलवा कर जमीदोज कर दिया था।

93a6f674-781f-4e84-ac0a-fe007ed9cc82प्रशासन आजम खां के विश्वविद्यालय जौहर यूनिवर्सिटी के किनारे सड़क को चैड़ा करना चाहता है जिसके चलते यह कार्रवाई की गई। इसके विरोध में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष हाफिज अब्दुल सलाम अपने दर्जनों समर्थकों के साथ घटना स्थल पर ही भूख हड़ताल पर बैठ गये वहीं बसपा के चमरउवा विघायक अली यूयुफ ने भी पैदल मार्च निकालकर जिला प्रशासन और पुलिस अधीक्षक से विरोध दर्ज कराया। मामला तूल पकड़ता देख प्रशासन ने मामले का हल निकालने के लिए कुछ लोहिया आवास व जमीन देने की पेशकश भी की। लेकिन भूख हड़ताल पर बैठे लोगों ने इसे नाकाफी बताते हुए नकार दिया।

fc42dc52-e442-43ce-a0ca-b941c5dfbb58आज सुबह जिला प्रशासन ने कार्रवाई करते सभी भूख हड़ताल पर बैठे लोगों को खदेड़ दिया वहीं पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इसके बाद आका्रेाशित लोगांे ने पुलिस पर जमकर पथराव शुरू कर दिया जिसमें कई पुलिस कर्मी और लोग घायल हो गये।

=>
LIVE TV