125वीं जयन्ती पर याद किये गये बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर

Picture 006बहराइच 14 अप्रैल । बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती के अवसर पर कलेक्टेªट सभागार में आयोजित कार्यक्रम के दौरान अपर जिलाधिकारी विद्या शंकर सिंह, मुख्य राजस्व अधिकारी ब्रज बिहारी पाण्डेय, नगर मजिस्ट्रेट वीएन पाण्डेय सहित अन्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने बाबा साहब डा. भीम राव अम्बेडकर के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया।

आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए अपर जिलाधिकारी विद्या शंकर सिंह ने कहा कि विश्व के सबसे बड़े और विस्तृत संविधान, जिसमें सभी लोगों का ध्यान रखा गया है, के निर्माण में बाबा साहब द्वारा दिये गये अमूल्य योगदान के लिए राष्ट्र उन्हें सदैव याद रखेगा। श्री सिंह ने बाबा साहब के जीवन आदर्शों पर प्रकाश डालते हुए भारत के संविधान की विशेषताओं पर विस्तार से चर्चा की। मुख्य राजस्व अधिकारी ब्रज बिहारी पाण्डेय ने डा. भीम राव अम्बेडकर के योगदानों के बारे में बताते हुए कहा कि आजादी के बाद उन्होंने ऐसा कार्य किया जिसे भुलाया नहीं जा सकता है। बाबा साहब असमानता को दूर करने के लिए सदैव संघर्षशील रहे। उन्होंने भारत के संविधान को तैयार करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। नगर मजिस्ट्रेट श्री वीएन पाण्डेय ने कहा कि इस अवसर पर संकल्प लें कि किसी प्रकार से हम किसी के प्रति असमानता का बर्ताव नहीं करेंगे। कार्यक्रम का संचालन संदीप कुमार मिश्रा ने किया। इस अवसर पर कलेक्टेªट व कलेक्टेªट परिसर के अन्य कार्यालयों के अधिकारी, कर्मचारी व गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

इसी प्रकार विकास भवन सभागार में डा. भीमराव अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती के अवसर पर आयोजित गोष्ठी में मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार, जिला विकास अधिकारी एसएन श्रीवास्तव, परियोजना निदेशक डीआरडीए रजत यादव ने बाबा साहब के जीवन मुल्यों एवं कृतियों पर प्रकाश डाला। गोष्ठी का संचालन विकास भवन के संरक्षक संजय मिश्रा द्वारा किया गया।

                          

=>
LIVE TV