Sunday , October 22 2017

ट्रैकिंग के साथ मिलेगा महाभारत का ज्ञान, जल्दी से कराएं हिमाचल की टिकट

हिमाचल प्रदेश का हमीरपुरहमारे देश में कई पुरानी मान्यताएं हैं, जिन्हें ज्यादातर लोग मानते हैं. महाभारत और उससे जुड़ी सभी चीजों के बारे में अक्सर कई बातें होती हैं. कुछ ऐसे भी हैं जिनको इन पर विश्वास नहीं होता. लेकिन देश में कुछ ऐसी जगहें हैं, जो महाभारत के अस्तित्व को स्वीकार करने के लिए मजबूर करती हैं. हिमाचल प्रदेश का हमीरपुर उन्हीं जगहों में से एक है.

यह जगह बहुत ही खूबसूरत है. छुट्टियों में या खाली समय में यहां जाकर घूम सकते हैं. यहां पर ट्रैकिंग भी कर सकते हैं.

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले के सोलह सिंगी धार के नीचे बसा राजनौण गांव एक ऐतिहासिक स्थल के नाम से मशहूर है. इस जगह के बारे में ऐसी मान्यता है कि अर्जुन को चक्रव्यूह का ज्ञान यहीं मिला था. यह चक्रव्यूह एक खंडहरनुमा महल के पास बना हुआ है. यह महल पिपलु किले के नाम से फेमस है. यह किला एक पहाड़ी पर बना हुआ  है, जहां ट्रैकिंग के जरिए पहुंचा जा सकता है.

हिमाचल प्रदेश का हमीरपुर जिले की तस्वीर

जब पांडवों को अज्ञातवास का जीवन जीना था. उस दौरान वह यहां रुके थे. उन्होंने पानी पीने के लिए एक बावड़ी बनाई थी. यह बावड़ी आज भी मौजूद है. इस बावड़ी से कुछ दूरी पर जमीन पर उकेरा हुआ चक्रव्यूह है. लोग ऐसा मानते हैं कि इस चक्रव्यूह को अर्जुन ने बनाया है. अर्जुन ने चक्रव्यूह का ज्ञान प्राप्त करने के लिए उसे पत्थर पर बनाया. यह आज भी पूरी तरह से सेफ है.

चक्रव्यूह को ध्यान से देखा जाए तो इसमें अंदर जाने का रास्ता तो साफ दिखाई देता है. लेकिन बाहर जाने का रास्ते का अंदाजा लगाना मुश्किल है.

स्थानीय लोगों के मुताबिक, इस महल की जगह लोगों ने लक्ष्मी नारायण मंदिर का मन्दिर बनवाया है. इस मंदिर को वनखंडेश्वर महादेव मंदिर के नाम से जाना जाता है.

हिमाचल प्रदेश का हमीरपुर

हिमाचल प्रदेश का हमीरपुर

=>
LIVE TV