42 करोड़ ग्राहकों के लिए SBI लेकर आया खुशियों की सौगात, होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन होगा सस्ता

मुंबई। देश के सबसे पड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के 42 करोड़ ग्राहकों पर बड़ा असर दिखाई दिया है। SBI ने सभी परिपक्वता अवधि के कर्ज के ऊपर मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट में 0.05 फीसदी की कटौती करने का एलान किया है। MCLR घटने के बाद एसबीआई के ग्राहकों का होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन सस्ता हो गया है। SBI की माने तो यह घटी हुई दरे 10 फरवरी से लागू होंगी। आपको याद दिला दें कि SBI ने लगातार यह नवीं बार कटौती करने का ऐलान किया है।

बैंक ने एक बयान में कहा कि इस कटौती के बाद एक साल की परिपक्वता अवधि वाले ऋण का एमसीएलआर (MCLR) कम होकर 7.85 प्रतिशत पर आ गया है। बैंक ने एमसीएलआर में यह कटौती रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के नतीजों की घोषणा के एक दिन बाद की है। रिजर्व बैंक ने बैठक के बाद बृहस्पतिवार को रेपो दर को 5.15 प्रतिशत पर यथवत बनाये रखा. हालांकि केंद्रीय बैंक ने एक लाख करोड़ रुपये तक की राशि के लिये दीर्घकालिक रेपो की घोषणा की. इससे वाणिज्यिक बैंकों के लिये कर्ज जुटाना सस्ता हो गया।

कब्र से निकाला गया महिला का शव, दुष्कर्म की आशंका के चलते जांच में जुटी पुलिस

एसबीआई (SBI) ने कहा कि उसने बैंकिंग प्रणाली में तरलता की अधिकता को देखते हुए दो करोड़ रुपये से कम के खुदरा जमा और दो करोड़ रुपये से अधिक के थोक जमा की ब्याज दरों में भी संशोधन किया है. खुदरा जमा के लिये ब्याज दर में 0.1 से 0.5 प्रतिशत तक की और थोक जमा में 0.25 प्रतिशत से 0.50 प्रतिशत तक की कटौती की गयी है. नई दरें 10 फरवरी से प्रभावी हैं।

=>
LIVE TV