Wednesday , September 20 2017

स्टाफ नर्स का इंटरव्यू हुआ कैंसल, धांधली का आरोप

स्टाफ नर्सलखनऊ। स्वास्थ्य भवन में स्टाफ नर्स के पद पर भर्ती के लिए गुरुवार को इंटरव्यू था। इंटरव्यू देने के लिए सैकड़ों की संख्या में अभ्यर्थी स्वास्थ्य भवन पहुंच गए। वहां पर अभ्यर्थियों की अधिक भीड़ होते देख स्वास्थ्य भवन के अधिकारियों के हाथ-पैर फूल गए। भीड़ अधिक देखकर इंटरव्यू कैंसल कर दिया गया। इस बात का पता लगते ही अभ्यर्थियों ने हंगामा शुरू कर दिया। काफी देर तक हंगामा होता रहा। बाद में अधिकारियों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने अभ्यर्थियों और उनके साथ आए अभिभावकों को हल्का बल प्रयोग कर शांत कराया।

स्वास्थ्य भवन में सुबह 11 बजे से स्टाफ नर्स की भर्ती के लिए इंटरव्यू होना था। सैकड़ों की संख्या में गुरुवार सुबह से ही अभ्यर्थी और उनके अभिभावक स्वास्थ्य भवन पर जुटने लगे। वहां पर काफी भीड़ हो गई। लोगों की बढ़ती संख्या से वहां स्थिति भयावह होने लगी। जिस पर स्वास्थ्य भवन के अधिकारियों ने इंटरव्यू ही कैंसल कर दिया।

नोटिस लगाकर बंद कर लिया गेट

अधिक भीड़ देखते हुए स्वास्थ्य भवन के अधिकारियों ने सुबह ही वहां लगे बोर्ड पर इंटरव्यू न होने की नोटिस चस्पा कर दी। नोटिस के चस्पा होते ही अभ्यर्थी और अभिभावक उग्र हो गए। उन लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा कर रहे अभ्यर्थियों ने आरोप लगाए कि इंटरव्यू कैंसल करने से यह साफ है कि स्वास्थ्य भवन के अधिकारी भर्ती में धांधली करने के मूड में हैं। हंगामा बढ़ते देख वहां पर अधिकारियों ने पुलिस बुला ली।

नर्सेज संघ ने लगाया आरोप

राजकीय नर्सेज संघ के महामंत्री अशोक कुमार का कहना है कि नर्सेज की भर्ती की नियमावली बनी हुई है। भर्ती के लिए पूरा पावर लोक सेवा आयोग को दिया गया है। ऐसे में प्रदेश में सीएमओ, स्वास्थ्य भवन स्तर से इंटरव्यू के आधार पर भर्ती से गड़बड़ी की आशंका रहती है। भर्ती के लिए ऐसे इंटरव्यू का तरीका गलत है।

=>
LIVE TV