सेना ने मार गिराए 3 आतंकी, एक निकला आईपीएस अधिकारी का भाई

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में मंगलवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना पर सुरक्षा बलों ने हेफ इलाके में घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया. जम्मू कश्मीर के शोपियां एनकाउंटर में मारा गया एक आतंकी 2012 बैच के आईपीएस अफसर इनैमुल हक का भाई शम्सुल हक था. वो परिवार छोड़कर हिजबुल का आतंकी बना था.

पुलिस अधिकारी ने कहा कि तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलानी शुरू कर दीं. अधिकारी ने बताया कि सात घंटे तक चले मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए. उन्होंने कहा कि मुठभेड़ स्थल से हथियार, गोला-बारूद और कुछ आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए गए.

बाद में मुठभेड़ स्थल के पास स्थानीय लोगों और सुरक्षा बलों के बीच संघर्ष छिड़ गया. मुठभेड़ के दौरान चार पत्रकारों को छर्रे लगे हैं.

छापेमारी में पकड़े गए 2 हथियार तस्कर गिरफ्तार, कई हथियार बरामद

विभिन्न पत्रकार संगठनों और कांग्रेस तथा पीडीपी सहित राजनीतिक दलों ने पत्रकारों पर ‘‘हमले’’ की निंदा की है. कांग्रेस के राज्य अध्यक्ष जी ए मीर ने कहा, ‘फोटो पत्रकारों पर हमले अस्वीकार्य और निंदनीय हैं और यह प्रेस की स्वतंत्रता पर हमला है.’ पीडीपी के नेता नईम अख्तर ने भी पत्रकारों पर कथित ‘‘हमले’’ की निंदा की.

=>
LIVE TV