सरकार की योजनाओ को पलीता लगाते अधिकारी

  • आखिर कैसे दूर होगा कुपोषण

हरदोई जिला अस्पताल के सामने खुले कुपोषण केंद्र की स्थापन 11 मार्च 2013 को हुई थी। लगभग 3 साल पुरे हो चुके है और सिर्फ 670 बच्चों का ही कुपोषण दूर हो सका है।जबकि कुपोषित बच्चों की संख्या 41128 है।और लापरवाही की हद हो गयी की 10 बेड होने के बाद भी सिर्फ 6 बच्चे ही भर्ती है।जिस कारण सरकार की योजनाओ को जनपद में पलीता लगाया जा रहा है।और शासन के द्वारा वो सारी सुबिधाये मुहैय्या करायी गयी।जो कुपोषण केंद्र की जरूरत है।मगर फिर जनपद में मौजूद अधिकारी ध्यान देने को तैयार नही है।

=>
LIVE TV