शहरी क्षेत्र में की सीमा में हुआ ये बदलाव, अब 100 मीटर की सीमा में बनेगा कंटेनमेंट जोन

डीएम शैलेंद्र सिंह ने बताया कि शासन ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर शहरी क्षेत्र में कंटेनमेंट जोन की सीमा में बदलाव किया है। बताया कि शहरी क्षेत्र में सिगल केस पाए जाने पर 100 मीटर की सीमा में कंटेनमेंट जोन के नियम लागू होंगे। वहीं एक से ज्यादा केस होने पर कंटेनमेंट जोन का दायरा 200 मीटर की सीमा तक होगा। उसके बाद स्थानीय स्तर पर परिस्थितियों के अनुसार बफरजोन का निर्धारण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शेष दिशा-निर्देश यथावत रहेंगे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को शासन के निर्देशों का कड़ाई से पालन कराने का निर्देश दिया है। पलिया में अब 18 कोविड-19 एक्टिव केस क्षेत्र में दो और कोरोना पॉजीटिव मरीज मिले हैं। इसमें एक पॉजिटिव शहर के कोरोना पॉजिटिव पाए गए डॉक्टर के यहां महिला कार्यरत थी जबकि दूसरी एसएसबी कैंप गदनियां में महिला मिली है। दोनों के

संपर्क में आए हुए लोगों को चिन्हित करने का कार्य स्वास्थ्य विभाग ने शुरू कर दिया है। इस सप्ताह में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मिलने की भरमार लगी हुई है। शुक्रवार को आईं रिपोर्ट में भी पलिया इलाके के दो कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। इन दोनों ने रैपिड टेस्ट के जरिए अपनी जांच कराई थी जिसमें वह पॉजिटिव आए हैं। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक इसमें एक महिला जो कि संक्रमित मिले डॉक्टर के क्लीनिक पर कार्य करती थी जबकि एक एसएसबी कैंप में पॉजिटिव मिली है। फिलहाल दोनों जगहों पर कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है और संक्रमितों के संपर्क में आने वाले लोगों की सूची तैयार की जा रही है। उधर सुमेरनगर में 21 जुलाई को दो पॉजिटिव मिले मरीजों के संपर्क में आए हुए 23 लोगों को चिन्हित किया गया है जिनकी शनिवार को जांच के लिए आई टीम ने सभी के सैंपल लिए। अब कुल मिलाकर पलिया में 18 एक्टिव केस हो चुके हैं। इसमें से सात लोग होम क्वारंटाइन में हैं जबकि बाकी को कोविड अस्पताल भेजा जा चुका है।

=>
LIVE TV