क्यों है विलिंगडन आइलैंड पर्यटकों के लिए सबसे बेस्ट टूरिस्ट प्लेस, जानें

प्रकृति का साक्षात अवतार अगर किसी को कहा जा सकता है तो वो दक्षिण भारत के केरल को। केरल अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए विश्व में मशहूर है। दुनिया भर के पर्यटक यहां छुट्टियां बिताने आते है। केरल कई चीज़ों के लिए मशहूर है जैसे बीच, हरियाली और कथकली नृत्य। लेकिन इन सब के भी अलावा एक चीज़ है जो इसकी सुंदरता और बढ़ाती है, और वो है विलिंगडन आइलैंड।

विलिंगडन आइलैंड

विलिंगडन आइलैंड एक बहुत ही सुंदर पर्यटन स्थल है। यहां बहुत सी ऐसी चीज़ें हैं जो पर्यटन के लिहाज़ से बहुत बेहतरीन है। विलिंगडन आइलैंड भारत के सबसे बड़े मैन-मेड आइलैंड है। ये आइलैंड कोई कुदरती नहीं है बल्कि इनसानों का ही बनाया हुआ है। ये आइलैंड केरल के लॉर्ड विलिंगडन के बाद जाना जाता है। लॉर्ड विलिंगडन इंडिया के ब्रिटिश वाइसरॉय थे।

ये आइलैंड कोची को दुनिया के अन्य देशों के बंरदगाघों को जोड़ने का काम करता है। ये सुंदर सा टापू चारो ओर पानी से घिरा हुआ है और देखने में ये दिल को सुकून देता है। तो सोचिये जब आप इस जगह को अपनी आखों से देखेंगे तो क्या भूल पाएंगे उस नज़ारे को? यकीनन, नहीं।

पत्थर का जवाब AK-47 से देता है ये नेता, मोदी और गहलोत को दी धमकी
क्यों जाएं विलिंगडन आइलैंड
अगर आपको फोटोग्राफी का शौक है तो ये जगह आपके लिए एकदम सही है। आइलैंड के आस-पास मौजूद पानी में आप बोटिंग कर सकते हैं और बहुत सी अच्छी तस्वीरें ले सकते हैं। इसके अलावा अगर आप अपने दोस्तों या परिवार के साथ जा रहे हैं तो हाउस बोट में भी रुक सकते हैं भी कर सकते हैं। शाम के समय ढलते सूरज की पानी पर पड़ती परछाईं, पानी की ओर झुके नारियल के बड़े-बड़े पेड़, ऐसा कुछ नज़ारा आपको यहां देखने को मिलेगा जो किसी स्वर्ग से कम नहीं।

विलिंगडन आइलैंड और आस-पास घूमने वाली जगहें विलिंगडन आइलैंड वैसे तो इतना खूबसूरत है कि सुबह से शाम हो जाएगी लेकिन आपका मन नहीं करेगा कहीं और जाने का। लेकिन फिर भी आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, विलिंगडन आइलैंड के आस-पास भी कुछ पर्यटन स्थल हैं जिन्हें देखना आपके लिए एक अच्छा अनुभव रहेगा। इसके अलावा यहां एक ब्रिज है जो विलिंगडन आइलैंड को कोची की मेन रोड से जोड़ता है। इस ब्रिज पर आप शाम के समय में वॉक पर जा सकते हैं। आइलैंड के बाहर कुछ शॉपिंग कॉम्प्लैक्स भी हैं जहां से आप अच्छी शॉपिंग कर सकते हैं।

अभी तक सीता माता के श्राप का दंस झेल रहे हैं ये चार जीव, मरने के बाद भी नहीं मिलती मुक्ति…

विलिंगडन आइलैंड का इतिहास कहा जाता है कि रॉबर्ट ब्रिस्टो, विलिंगडन आइलैंड के मुख्य नायक और इंजीनियर थे। उन्होंने आइलैंड पर पहली इमारत खरीदी थी लेकिन वर्तमान में पूरी भूमि कोचीन पोर्ट ट्रस्ट और भारतीय नौसेना के अधीन है। विलिंगडन आइलैंड साल 1936 में आधुनिक कोची बंदरगाह के निर्माण के दौरान मिट्टी की खाई के साथ बनाया गया था जबकि नई कोची बंदरगाह के लिए वेम्बनाद झील को गहरा कर दिया गया था। इसे बनाने के लिए वेम्बनाद झील से रेतीली ज़मीन का एक काफी बड़ा हिस्सा निकाल दिया।

विलिंगडन आइलैंड जाते वक्त रखें इन बातों का खास ख्याल क्योंकि केरल एक उमस और गर्मी वाली जगह है इसलिए हमेशा बाहर जाते वक्त अपने साथ पानी और धूप से बचने के लिए हैट और धूप के चश्मे साथ रखें ठंडा पानी पीने की कोशिश बिल्कुल ना करें क्योंकि गर्मी में ठंडा पानी पीने से सर्द-गर्म हो सकता है और आपकी पूरी ट्रिप खराब हो सकती है। विलिंगडन आइलैंड पहुंचने का सही समय विलिंगडन आइलैंड जाने का सही समय अक्टूबर से अप्रैल के बीच को होता है। क्योंकि इस समय मौसम घूमने के लिए एकदम अनुकूल रहता है।

=>
LIVE TV