लॉकडाउन में गुजरात में फंसे बेटे की मां को पुलिस ने ट्वीट के जरिए दिया राशन

हमीरपुर:  कोरोना वायरस से बढ़ता संक्रमण अब पूरे भारत को चपेट में ले चुका है और इसे देखते हुए 21 दिनों का  लॉकडाउन घोषित किया जा चुका है. इससे जनता के लिए कई समस्याएं पैदा हो रहीं हैं. लेकिन इन सभी समस्याओं के सामाधान के लिए सरकार ने इंतजाम कर दिए हैं और इसको सक्रिय बनाने में पुलिस अधिकारी दिन रात लगे हुए हैं. इसका उदाहरण हमीरपुर से ताजा-ताजा आया है. एक युवक लॉकडाउन में गुजरात में फंसा है और पुलिस ने ट्वीट से मिली जानकारी पर उसकी बीमार मां को राशन सामग्री पहुंचाया है.

hamirpur-47_5

 

चित्रकूटधाम परिक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) दीपक कुमार ने शनिवार को बताया कि हमीरपुर जिले के जलालपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला युवक रमेश कुमार मुझे व हमीरपुर पुलिस के ट्विटर हैंडिल को टैग करते हुए ट्वीट किया था कि वह लॉकडाउन में गुजरात में फंसा है और उसकी बीमार मां घर में अकेली है, राशन भी खत्म हो गया है.

योगी सरकार ने 11 हजार कैदियों को दी खुशखबरी, अब नहीं होगी जेलों में भीड़…

उन्होंने बताया, “रमेश से ट्विटर पर ही उसकी मां का पूरा पता लिया गया और जलालपुर थाना प्रभारी के माध्यम से बीमार महिला को तत्काल राशन सामाग्री पहुंचाई गई है. डीआईजी ने लोगों से अपील करते हुए कहा, “लॉकडाउन का पूर्ण पालन करें, पुलिस उनकी छोटी या बड़ी हर समस्या के निदान के लिए 24 घंटे उनके साथ खड़ी है. जब पुलिस अधिकारी को टैग कर ट्वीट करने वाले रमेश कुमार से फोन पर जब इस बारे में पूछा तो उसने कहा कि मुझे तो उम्मीद ही नहीं थी कि पुलिस इतना जल्दी उसकी मां को राशन सामग्री पहुंच देगी. मां की मुसीबत जानकर मुझे दो दिन से नींद नहीं आयी थी, अब सकून है.

=>
LIVE TV