लाइफ एंड वैल्यूज के जरिए क्लास-6 के बच्चों को किया जा रहा है जागरुक,ऋतिक हकलाहट कैसे दूर हुई जानें

मुम्बई:हकलाना और बोलने में दिक्कत पर जीत के साथ ऋतिक रोशन का सफर सभी के लिए प्रेरणादायक रहा है. अब उनकी कहानी कक्षा 6 के छात्रों को पढ़ाई जा रही है. एस चंद पब्लिकेशंस की पाठ्यपुस्तक ‘लाइफ एंड वैल्यूज’ में आत्मविश्वास पर आधारित अध्याय के तहत बॉलुवीड स्टार ऋृतिक रोशन की कहानी पढ़ाई जा रही है. बता दें कि ऋृतिक बचपन में हकलाते थे. बड़ी मुश्किल से उन्होंने ठीक तरीके से बोलना सीखा था।ऋतिक

इंटरनेट पर एक तस्वीर खूब वायरल हो रही है, जहां सेल्फ कॉन्फिडेंस के चैप्टर में इस परेशानी के खिलाफ उनकी लड़ाई को दिखाया गया है. सोशल मीडिया पर एक हैंडल ने साझा करते हुए लिखा,” बोर हो रहा था तो मैंने अपनी भांजी की किताब पढ़ी और सरप्राइज हो गया. ये 6 क्लास की किताब है. इसमें ऋतिक रोशन की कहानी पढ़ाई जा रही है.”

इससे पहले, ऋृतिक द्वारा अपनी कमियों को हावी नहीं होने देने पर भी अंतर्राष्ट्रीय लेखक बेन ब्रूक्स ने एक लेख लिखा था. स्टोरीज फॉर बॉयज हू डेयर टू बी डिफरेंट में भी ऋतिक की कहानी है.वास्तु

ऋतिक की कहानी कैसे बनी प्रेरणादायक

स्टूडेंट्स को जो किताब पढ़ाई जा रही है उसमें सभी संघर्षों को एक साथ रखा गया है. कैसे वह हकलाने के कारण बात करने से घृणा करते थे? घुमावदार रीढ़ की हड्डी से ग्रस्त एक स्थिति के साथ जीवन का नेतृत्व करना और अब अभिनेता द्वारा इन सभी परेशानियों को कठोरता और दृढ़ संकल्प के साथ मात देने की भावना को भी किताब में बताया गया है. एक्टर की कहानी को एक प्रेरणा के रूप में पेश किया गया है.

संक्रमण में मदद के लिए यूपी सरकार का बड़ा ऐलान, खातों में डाले गए इतने रुपए

ऋतिक का फिल्मी करियर अभी कैसा है?

फिल्मों की बात करें तो, ऋतिक के लिए दो बैक टू बैक हिट के साथ 2019 कमाई के लिहाज से अच्छा रहा. सुपर 30 और वॉर ने न केवल दर्शकों का दिल जीता बल्कि रिकॉर्ड तोड़ते हुए बॉक्स ऑफिस पर भी सफलता का परचम लहराया था. चुनौतीपूर्ण किरदार की विरासत को आगे बढ़ाते हुए, अभिनेता ने सुपर 30 के बाद न केवल फिर से फिट होने की चुनौती से हाथ मिलाया बल्कि उस पर शानदार प्रदर्शन करते हुए सभी कर दिया और वह भी महज दो महीने के भीतर! ऋतिक रोशन की वॉर 2019 की अब तक की सबसे बड़ी फिल्म बन गई है और बॉक्स ऑफिस पर करोड़ों का कारोबार की.

=>
LIVE TV