Sunday , February 18 2018

प्रथम पुरुष की सुरक्षा है अभेद्य, कोई मार के दिखाए

राष्ट्रपति डोनाल्डन्ययार्क। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके परिवार की सुरक्षा में न्यूयॉर्क शहर को रोजाना करीब सात करोड़ रुपये (10 लाख डॉलर) से ज्यादा खर्च करने पड़ रहे हैं। न्यूयॉर्क के इंटेलिजेंस एंड काउंटर टेरोरिज्म के डिप्टी कमिश्नर और मेयर समेत तीन शीर्ष अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है।

अधिकारियों का कहना है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड के एक बार व्हाइट हाउस चले जाने के बाद इस खर्च में काफी कमी आएगी। दरअसल, इस साल का स्कूल सत्र खत्म होने तक डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप और उनके 10 वर्षीय बेटे बैरन मिडटाउन मैनहट्टन स्थित ट्रंप टावर में ठहर सकते हैं।

ट्रंप की योजना है कि वह अपने परिवार के पास ट्रंप टावर में नियमित रूप से आते रहेंगे। खासकर जब तक उनका परिवार यहां रहेगा, तब तक उनका आनाजाना लगा रहेगा। ट्रंप के परिवार के सभी सदस्यों को भी सीक्रेट सर्विस सुरक्षा दी जा रही है।

टीपीपी पर ट्रंप की घोषणा से चीन खुश

ट्रांस-पैसिफिक पार्टनरशिप (टीपीपी) से अमेरिका के अलग होने की ट्रंप की घोषणा से चीन बेहद खुश है। वह इस व्यापार समझौते का विरोध करता है। साथ ही चीन ने इसकी जगह फ्री ट्रेड एरिया ऑफ द एशिया पैसिफिक (एफटीएएपी) के प्रस्ताव को आगे बढ़ाने की वकालत की है।

सोमवार को पेरू में एपीईसी के कार्यकारी अधिकारियों के शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि एशिया प्रशांत क्षेत्र में दीर्घकालिक समृद्धि के लिए एफटीएएपी बेहद अहम है। दुनिया के सबसे बड़े व्यापार समझौते टीपीपी से अमेरिका के अलग होने की औपचारिक घोषणा के बाद उनका यह बयान सामने आया है।

=>
LIVE TV