रामदेव ने BSF जवानों को दिया बड़ा तोहफा, अब पतंजलि देगा आर्मी को हर सुविधा

रामदेवनई दिल्ली। योग गुरू बाबा रामदेव की एफएमसीजी कंपनी पतंजलि के उत्पाद अब सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान भी इस्तेमाल करेंगे। बीएसएफ वाइव्ज वेलफेयर एसोसिएशन (बीडब्ल्यूडब्ल्यूए) ने इस बारे में पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसके तहत देश भर में बीएसएफ परिसरों में बीडब्ल्यूडब्ल्यूए पतंजलि दुकानें खोली जाएंगी।

इसके तहत देशभर में बीएसएफ परिसर में एक दर्जन से ज्यादा पतंजलि के स्टोर खोले जाएंगे। ऐसी पहली दुकान गुरुवार को दिल्ली में खोली गई। इसका उद्घाटन बीडब्ल्यूडब्ल्यूए की अध्यक्ष और बीएसएफ के डायरेक्टर जनरल केके शर्मा की पत्नी रेणु शर्मा ने किया।

बीएसएफ ने बयान जारी करके कहा है कि समझौते के तहत बीएसएफ कर्मचारियों और उनके परिजनों को पतंजलि के प्रोडेक्ट्स खरीदने पर छूट दी जाएगी। इसके तहत यह छूट 15 से 28 फीसदी तक मिलेगी। पतंजलि के स्टोर अगरतला, तेकानपुर(ग्वालियर), गुवाहाटी, जोधपुर, सिलीगुड़ी, जालंधर, कोलकाता, जम्मू, बेंगलुरु, सिल्चर, अहमदाबाद, हजारीबाग और इंदौर में खोले जाएंगे।

रामदेव का पतंजलि फूड पार्क कई तरह के एफएमसीजी प्रोडेक्ट बनाता है। इसके साथ ही वह च्वयनप्राश, मसाले, घी और अन्य प्रोडेक्ट्स भी बनाता है। हरिद्वार में पतंजलि फूड पार्क की अन्य अर्द्धसैनिक बल सीआईएसएफ सुरक्षा करता है।

इसके साथ ही सीआरपीएफ जवान रामदेव की वीआईपी सिक्यूरिटी में भी तैनात हैं। पिछले साल बीएसएफ के 2 हजार जवानों और अधिकारियों को उत्तराखंड के हरिद्वार में रामदेव के पतंजलि इंस्टीट्यूट में ट्रेनिंग दी गई थी। इसके बाद बीएसएफ कर्मचारियों के लिए योगा अनिवार्य कर दिया गया। 2.5 कर्मचारियों वाला बीएसएफ पाकिस्तान और बांग्लादेश सीमा पर निगरानी करता है।

बता दें, पिछले साल एसोचैम-टेकस्की अनुसंधान रिपोर्ट आई थी, इसमें कहा गया था कि 2015-16 में पतंजलि आयुर्वेद के प्रदर्शन का कोई जवाब नहीं रहा। इस कंपनी ने 146.31 प्रतिशत की वृद्धि के साथ पिछले वित्त वर्ष में करीब 77 करोड़ डॉलर की वृद्धि दर्ज की।

साथ ही रिपोर्ट में बताया गया था कि देश में रोजमर्रा के उपयोग के उपभोक्ता सामान बनाने वाली सात प्रमुख कंपनियों की आय 2015-16 में घरेलू बाजार में काम कर रही अपनी सात प्रमुख विदेशी प्रतिस्पर्धी फर्मों से अच्छी रही।

=>
LIVE TV