Wednesday , September 20 2017

सात मिनट के वीडियो में महिला ने बताया कैसे पास की परीक्षा, यूपीपीएससी में मचा हड़कंप

राजस्व निरीक्षकलखनऊ। यूपी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की पिछली सरकार के दौरान हुई राजस्व निरीक्षक की भर्ती प्रक्रिया पर बड़ा सवालिया निशान लग गया है। नगर निगम में कुछ समय पहले तैनात हुई राजस्व निरीक्षक अनामिका यादव एक वायरल वीडियो में गलत तरीके से प्रतियोगी परीक्षा पास करने की बात कह रही है। उसने कहा कि उसको 2016 में हुई राजस्व निरीक्षक की परीक्षा की आंसर शीट पहले मिल गई थी। वीडियो में वह घूस देने की भी बात कह रही है।

‘आधा हाउस टैक्स माफ’ के वादे के साथ यूपी निकाय चुनाव में उतरेगी AAP

नगर आयुक्त उदयराज सिंह को इस संबंध में एक गुमनाम पत्र के जरिये शनिवार को शिकायत की गई है। जिसमें बताया गया है कि महिला का वीडियो आलमबाग के एक रेस्टोरेंट में बनाया गया था। नगर आयुक्त ने जांच अपर नगर आयुक्त नंदलाल को सौंपी है। आरोपी महिला का कहना है कि वीडियो में छेड़छाड़ की गई है। कानपुर निवासी सत्येंद्र यादव साजिशकर्ता है। वह उस पर शादी का दबाव बना रहा है। उसके खिलाफ आलमबाग थाने में तहरीर दी है।

फर्जी मौलानाओं के खिलाफ प्रस्ताव लाएगा ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

नगर आयुक्त ने बताया कि अनामिका यादव पुत्री रामहेत यादव के खिलाफ शिकायत की गई है। उसका परीक्षा अनुक्रमांक 00097774 था। ये परीक्षा अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने करवाई थी। जिसके बाद में शासन की ओर से उसको नगर निगम लखनऊ में तैनाती दी गई थी।

यूपीपीएससी में मचा हड़कंप

वायरल वीडियो को लेकर सबसे पहले सीबीआइ जांच की आंच में घिरे यूपी लोकसेवा आयोग में हड़कंप मच गया। चूंकि वीडियो में महिला ‘आयोग’ की बात कर रही थी, इसलिए मामले की जानकारी मिलने पर यूपीपीएससी के फोन घनघनाने लगे, लेकिन यूपीपीएससी के मीडिया प्रभारी सुरेंद्र उपाध्याय ने बताया कि, उप्र लोकसेवा आयोग ने साल 2016 में राजस्व निरीक्षक की कोई परीक्षा ही नहीं करवाई थी।

महिला ने बताया कैसे पास की परीक्षा

वायरल वीडियो में ये दिख रहा है कि आरोपी महिला अनामिका यादव विस्तार से बता रही है कि, किस तरह से उसने गलत तरीके से प्रतियोगी परीक्षा पास कर के राजस्व निरीक्षक की नौकरी पा ली। उससे पहले प्रश्नपत्र में कुल 150 सवाल पूछे गए थे, जिनमें से उसने 135 का सही जवाब दे दिया था। वहीं दूसरे प्रश्नपत्र में उससे पूछे गए 25 में से 22 सवालों के सही जवाब दे दिये थे। इन सवालों का जवाब लिखने में उसको कोई दिक्कत नहीं हुई क्योंकि उसको आंसर शीट पहले से ही मुहैया करवा दी गई थी। अपना चयन सुनिश्चित करने के लिए उसने घूस देने की बात भी कही है। वीडियो में महिला स्वीकार कर रही है कि वह अभी प्रोबेशन पीरियड पर है।

=>
LIVE TV