रखे कुछ खास बातो का ध्यान,सरपट दौड़गी आपकी कार…

दुनिया भर से सबसे ज्यादा पेट्रोल और डीजल पर टैक्स भारत में ही लगता है,तो क्यों न हम कुछ जरुरी बातो को ध्यान में रख कर अपने कार की फ्यूल इकॉनमी बढ़ा  ले।आप अपनी कार में पेट्रोल हो या डीजल का प्रयोग करते है तो कुछ उपाय को अपना कर पैसा बचा सकते है।

 

सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि फ्यूल कॉस्ट की बचत कार को मेंटेन रखने, लगातार साफ करने और नियमित सर्विसिंग से शुरू होती है. लॉकडाउन की वजह से आपकी कार काफी दिनों से बाहर खड़ी है. ऐसे में उसपर धूल मिट्टी जमा हो रही होगी. इसलिए कार को सबसे पहले अपने गैरेज में या फिर किसी ऐसी जगह पार्क करें जहां धूल न पड़े. अपने कार की अच्छी देखभाल करने का मतलब ही यही है कि आप अपने वॉलेट की देखभाल कर रहे हैं।

राज्य में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, घर वापस लौट रहे लोगों में कोरोना…

अपनी कार के टायर को ठीक रखना भी एक और महत्वपूर्ण बिंदु है क्योंकि यह आपकी कार और सड़क के बीच एकमात्र संपर्क बिंदु है. फ्यूल इकॉनमी को बढ़ाने में सही टायर प्रेसर बनाए रखना बहुत महत्वपूर्ण है. टायर प्रेसर उतना ही रखें जितना आपकी कार में लिखा हो. ड्राइवर साइड के दरवाजे के पास यह लिखा होता है. इसके अलावा अपनी कार के टायर टायर प्रेसर की जांच करने से पहले पेट्रोल पंप तक तेजी से ड्राइव न करें।

 

ओवर स्पीड न करें और स्पीड लिमिट बनाए रखें-

ड्राइविंग करते समय एक स्मूथ क्रूज़िंग स्पीड रखना बहुत महत्वपूर्ण है. अभी लॉकडाउन के समय सड़कें काफी खाली हैं इसका मतलब यह नहीं है कि कार से फर्राटा भरने लगें. यह जरूरी है कि आप ओवर स्पीड न करें और स्पीड लिमिट बनाए रखें. इसके अलावा अगर आपकी कार में क्रूज़ कंट्रोल है तो इसका उपयोग करें और शहर की परिस्थितियों में आम तौर पर 40/60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार बनाए रखें.

मैन्युअल कार चलाते समय सही आरपीएम पर शिफ्ट करना और इंजन को रिवाइव करना या बहुत जल्दी शिफ्ट नहीं करना बहुत जरूरी है. 2500 आरपीएम या 3000 आरपीएम के बाद एक हायर गियर पर शिफ्ट न करें, क्योंकि तब आपकी कार अधिक फ्यूल का उपयोग कर रही है. सही आरपीएम पर डाउनशफ्टिंग नहीं करना भी एक और कारण है कि आपकी कार अधिक ईंधन पी रही है. काफी देर तक एक गियर में चलाना भी सही नहीं है. अधिकांश मैनुअल कारों में गियरशिफ्ट इंडिकेटर होता है, सही तरीके से गियर शिफ्ट करने के लिए इसका उपयोग करें.

 

ब्रेक पर अपने पैर रखकर ड्राइव न करें-एक और महत्वपूर्ण बात यह है कि ब्रेक पर अपने पैर रखकर ड्राइव न करें. यह आपके इंजन, ट्रांसमिशन और ब्रेक पर दबाव बढ़ाता है. ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन इंजन के जरूरत के मुताबिक खुद ही गियर चेंज कर लेते हैं इसलिए ऑटोमैटिक कार चलाते समय, धीरे-धीरे accelerate करें. आमतौर पर कारों में ईंधन बचाने के लिए एक इको मोड होता है इसलिए इसका उपयोग भी करें.

फ्यूल बचाने के लिए मॉडर्न कारों में स्टार्ट/स्टॉप सुविधा है और यह वास्तव में उपयोगी है. लेकिन ध्यान रखें कि जब सिस्टम ऑन हो तो एयरकॉन बंद हो जाए. इसके अलावा ड्राइविंग करते समय इसे मॉड्यूलेट करना और आगे की योजना बनाना सबसे अच्छा है. किसी इमरजेंसी की स्थिति के अलावा अचानक ब्रेक लगाने से बचें. इसके अलावा अगर सामने ट्रैफिक सिग्नल रेड है तो अचानक पास जाकर ब्रेक लगाने से अच्छा है कि पहले ही कार को धीमा कर लें. आखिर में अपनी कार का सही तरीके से उपयोग करना भी महत्वपूर्ण है.

=>
LIVE TV