रक्षा खरीद में स्वदेशी उपकरणों की हिस्सेदारी चरम पर

manohar-parrikar_56e2b2053d7b9एजेंसी/ नई दिल्ली : रक्षा उत्पादन को लेकर हाल ही में केंद्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर सामने आए है. बताया जा रहा है कि रक्षा उत्पादन के मामले में देश 70 फीसदी आत्मनिर्भरता हासिल करना चाहता है. और इसके लिए वह प्रयास में लगा हुआ है. जबकि साथ ही यह बात भी सामने आई है कि रक्षा खरीद में स्वदेशी उपकरणों की हिस्सेदारी 64 फीसदी के आंकड़े को छू रही है.

इस मामले में मनोहर पार्रिकर ने यहाँ कहा है कि रक्षा उत्पादन में 100 फीसदी की आत्मनिर्भरता व्यावहारिक नहीं है. उन्होंने आगे कहा है कि 70 फीसदी आत्मनिर्भरता अधिकतम व्यावहारिक मानी जाती है. पर्रिकर ने यह भी बताया है कि रक्षा क्षेत्र में जहाँ एक तरफ निवेश को बढ़ावा दिया जा रहा है तो इसके साथ ही यह भी देखा जा रहा है कि मेक इन इंडिया को आगे बढ़ाया जा सके.

इसके चलते दो योजनाएं भी बनाई गई है जिनके अच्छे परिणाम भी सामने आ रहे है. इसके साथ ही जानकारी में यह भी कहा गया है कि पिछले तीन सालों के दौरान विदेशों से रक्षा उत्पादों की खरीद 52 फीसदी से कम होकर 36 फीसदी पर पहुँच गई है. जबकि इसके साथ ही स्वदेशी खरीद का अनुपात 46 फीसदी से 64 फीसदी पर पहुँच गया है.

=>
LIVE TV