यूपी में 45,525 अभ्यर्थियों ने छोड़ी बीएड प्रवेश परीक्षा

exam_1461359803एजेंसी/ सूबे के बीएड कॉलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित संयुक्त प्रवेश परीक्षा में शुक्रवार को 45,525 अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे। प्रदेश के 593 केंद्रों पर कुल 3,03,032 अभ्यर्थी पंजीकृत थे जिनमें से करीब 2,57,507 ही परीक्षा देने पहुंचे। इस तरह प्रवेश परीक्षा छोड़ने वालों की संख्या 15 फीसदी के करीब रही।

परीक्षा के सह समन्वयक प्रो. पवन अग्रवाल ने बताया कि गत वर्ष बीएड प्रवेश परीक्षा में 12 फीसदी के करीब अभ्यर्थी अनुपस्थित रहे थे।

भले ही इस साल अनुपस्थित अभ्यर्थियों की संख्या में 3 फीसदी की बढ़ोतरी हुई हो, इसके बावजूद गत वर्ष की तुलना में इस साल करीब 95 हजार अधिक अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए। अभ्यर्थियों की इस बढ़ी संख्या से बीएड कोर्स चलाने वाले कॉलेजों को सीटें भरने में काफी राहत मिलेगी।यूपी बीएड के प्रवेश समन्वयक प्रो. वाई के शर्मा ने बताया कि रिजल्ट जारी होने से पहले सभी प्रश्न पुस्तिकाओं की विभिन्न सीरिज की आंसर-की जारी की जाएगी।

अभ्यर्थियों को उनके साथ ओएमआर शीट की कार्बन कॉपी ले जाने दी गई है। इस ओएमआर पर उनका सीरिज नंबर लिखा है। इससे अभ्यर्थी आंसर-की से अपने उत्तर का मिलान कर सकेंगे। यदि किसी को उस पर आपत्ति हो, तो वह विवि में आपत्ति भी दर्ज करा पाएंगे।

25 मई से पहले भी आ सकता है रिजल्ट
यूपी बीएड की वेबसाइट पर दी जानकारी के अनुसार प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित करने की संभावित तिथि 25 मई है। हालांकि लखनऊ विश्वविद्यालय के बीएड सेल के एक अधिकारी ने बताया कि रिजल्ट 22 मई को भी घोषित किया जा सकता है।

वहीं काउंसलिंग 1 जून से 25 जून तक चलेगी। काउंसलिंग के बाद प्रवेश की अंतिम तिथि 28 जून रखी गई है। बीएड का नया सत्र 1 जुलाई से शुरू होगा। हालांकि यह सभी तिथियां संभावित हैं, जिनमें बदलाव भी हो सकता है।

=>
LIVE TV