यहां धरती में समाई थी माता सीता, आज यहां बना हुआ है भव्य मंदिर

लखनऊः आज हम आपको एक धार्मिक जगहें के बारे में बताने जा रहें है। वैसे तो उत्तर प्रदेश में देखने के लिए बहुत से प्रसिद्ध मंदिर है लेकिन आज हम आपको उस जगहें के बारे में बताने जा रहें है।

रामायण काल से जुड़ा और भगवान राम को समर्पित यह मंदिर उत्तर प्रदेश में स्थित है। उत्तर प्रदेश, इलाहाबाद और वाराणसी के मध्य स्थित यह जगह हिंदुओं के लिए महत्वपूर्ण है। पर्यटकों को आकर्षित करने वाले इस स्थान में माथा टेकने के लिए हर साल कई पर्यटक आते है।

सीतापुर के इस मंदिर सीता माता अपनी इच्छा के अनुसार धरती में समाई थी। उत्तर प्रदेश के संत रविदास नगर में गंगा के किनारे स्थित इस मंदिर को सीता समाहित स्थल के नाम से भी जाना जाता है।गगा नदी के किनारे बने इस मंदिर में खूबसूरत झरने के उपर शिवजी का मंदिर बनाया गया है।

मुस्लिम समुदाय के लोगों ने अयोध्या फैसले का किया स्वागत, जुलूस का अयोजन

इसके अलावा यहां पर हनुमान जी की एक बड़ी मूर्ति भी बनाई गई है, जिसे देखने के लिए कई टूरिस्ट आते है। नदी के साथ-साथ यह मंदिर चारों तरफ से प्रकृति से घिरा हुआ है। इस खूबसूरत मंदिर में आप दर्शन करने के साथ घूमने के मजा भी ले सकते है।

=>
LIVE TV