मुकेश भट्ट The Jungle Book को यू/ए सर्टिफिकेट देने से भड़के

images (24)एजेन्सी/बॉलीवुड इंडस्ट्री के सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी एक बार फिर से सुर्खियों में छा गए है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दरअसल, सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने बच्चों की एनिमेटेड फिल्म जो कि डिज्नी यूटीवी की फिल्म है जिसका नाम है ‘द जंगल बुक’ जिसे यू/ए सर्टिफिकेट दिया है। उनके इस फैसले से बॉलीवुड फिल्म निर्माता मुकेश भट्ट भी हैरत में है. बॉलीवुड फिल्म निर्माता मुकेश भट्ट ने कहा की ‘‘द जंगल बुक’ को यू/ए सर्टिफिकेट मिलना बताता है कि यह देश कितना बावला हो गया है. हमने विवेक खो दिया है. ऐसा कहने के लिए मुझे खेद है.

यदि ‘जंगल बुक’ को यू:ए सर्टिफिकेट मिल रहा है, तब तो सरकार को सीबीएफसी के बारे में कुछ गंभीरता से विचार करना चाहिए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘यदि आप मुझसे पूछते हैं कि क्या सीबीएफसी को कूड़ेदान में फेंक देना चाहिए, तो मेरा मानना है कि वह सीबीएफसी के लिए सही जगह है.’’ 

ब्रिटिश राइटर रुडयार्ड किपलिंग की स्टोरी पर बेस्ड ये फिल्म खास तौर पर बच्चों के लिए बनाई गई है। निहलानी के मुताबिक इस 3D फिल्म में ऐसे कई सीन्स है, जो बच्चों के हिसाब से डरावने हैं। इसलिए उनका अकेले ये फिल्म देखना सही नहीं होगा। निहलानी ने कहा की इस फिल्म के लिए बच्चों के साथ उनके अभिभावक का होना जरूरी है. 

जिसके बाद निहलानी के इस फैसले पर सभी और उनकी तीखी आलोचना हो रही है  तो वहीं सेंसर बोर्ड के मेंबर्स ने भी इसे निहलानी का एकतरफा फैसला बताया है। एक इंटरव्यू में सेंसर बोर्ड मेंबर और डायरेक्टर अशोक पंडित ने कहा, “यह सेंसर बोर्ड का नहीं निहलानी का फैसला है.

=>
LIVE TV